वासना से भरी छोटी बहन की मजेदार चुदाई-2

सिस्टर डिफ्लोरेशन सेक्स का मजा मैंने लिया अपनी छोटी बहन के साथ. वो बहुत सेक्सी है. मैंने उसे चूत में उंगली करती देखा तो मैंने उसे सेट करके चोद दिया. वो कुंवारी थी.

प्रिय पाठको,
अपने मेरी कहानी के पहले भाग
वासना से भरी मेरी छोटी बहन को नंगी देखा
में पढ़ा कि मैं अपनी बहन को पसंद करता था और उसे वासना की नजर से देखता था. एक दिन मैंने उसे पूरी नंगी होकर अपनी चूत में उंगली करती देख लिया. तो मुझे समझ आ गया कि मेरे बहन को भी लंड चाहिए, मुझे इसकी चूत मिल जायेगी.
बस मैंने कोशिश शुरू कर दी.

पिंकू अपने कपड़े वही चेंज करने लगी, उसने एक ढीली सी फ्रॉक पहन ली और नीचे कुछ नहीं पहना, वह सोते समय ब्रा नहीं पहनती है।

मैंने देखा, पिंकू गजब का माल देख रही थी, उसकी गोरी चिकनी चिकनी टांगें देख कर मैं तड़प उठा।

पिंकू बोली- भैया, मैं सो रही हूं जब आप टीवी देख लेना तो आप भी सो जाना.
इतना बोल कर वह सोने चली गई.

मैं मन ही मन सोचने लगा कि पिंकू तुझे अभी कहां सोने दूंगा, अभी तो तेरी मस्त मस्त चुदाई बाकी है।

तो मैं भी टीवी ऑफ करके कमरे में चला गया और पिंकू से सटकर बगल में लेट गया.

अब आगे Sister Defloration Sex:

पिंकू मेरी तरफ गांड करके सो रही थी, मैं उससे और सट गया और अपना लौड़ा जो पहले से ही खड़ा था, उसकी मक्खन जैसी गांड से सटा दिया.

मेरी बहन पिंकू की नींद लग चुकी थी इसलिए मैंने हिम्मत करके एक हाथ उसकी कमर से ले जाकर पेट पर रख दिया।

धीरे-धीरे मैंने उसकी फ्रॉक ऊपर कर दी.
अब मैं पिंकू की चिकनी टांगों और उसके पेट पर हाथ घुमाने लगा, मुझे बहुत मजा आने लगा.

पिंकू अभी भी सो रही थी जिससे मेरी हिम्मत और बढ़ गई और मैंने उसकी फ्रॉक को और ऊपर तक कर दिया।

  मेरी चूत गांड चटवाने की तमन्ना

तभी अचानक पिंकू की नींद खुल गई और भाई जोर से बोली- भैया क्या कर रहे हो?
मेरी तो फट ही गई, उसने अपनी फ्रॉक नीचे करते हुए बोली- यह सब क्या है?

मैं बोला- देख पिंकू, मैं नींद में था शायद गलती से हो गया।
वो बोली- चलो ठीक है, मैं समझ सकती हूं, लेकिन आगे से ऐसी गलती नहीं होनी चाहिए।

पिंकू मुझे लाइन पर आते दिख रही थी, मैंने हिम्मत करके उससे पूछ लिया- पिंकू, तेरा कोई बॉयफ्रेंड है?
“क्या भैया, आप क्या पूछ रहे हो? मेरे को समझ में नहीं आ रहा!” वो जानबूझकर नादान करने की कोशिश कर रही थी।

मैंने फिर से पूछा- पिंकू सीरियसली बता ना तेरा कोई बॉयफ्रेंड है या नहीं?
पिंकू नीचे सर करके मना कर दिया.

अब वह भी काफी ओपन होने लगी और बातों ही बातों में कहने लगी- लगता है आपकी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है.
मैं बोला- तुझे कैसे पता?

पिंकू मुस्कुराते हुए बोली- आपकी हरकतों से पता चलता है.
मैं बोला- ऐसी कोई बात नहीं है पिंकू, तेरी जैसी खूबसूरत लड़की आज तक मिली ही नहीं!
पिंकू बोली- क्या भैया आप भी!

अब हम काफी ओपन हो चुके थे और बिस्तर पर ही बैठ कर बातें करने लगे।

तभी मैंने पूछ लिया- पिंकू कभी तूने सेक्स किया है?
पिंकू गुस्सा सी होकर बोली- भैया मैं आपकी बहन हूं, आप यह क्या पूछ रहे हो?

मैंने सोचा यही सही समय है, मैं बोला- मेरी प्यारी पिंकू, ज्यादा होशियार बनने की जरूरत नहीं है. आज तू दोपहर में कमरे में क्या कर रही थी, मुझे सब पता है!

इतना सुनते ही पिंकू घबरा सी गई, उसके चेहरे पर डर के हाव-भाव साफ दिखाई दे रहे थे।

पिंकू बोली- कुछ भी तो नहीं कर रही थी, मैं तो सो रही थी, मुझे क्या पता क्या हुआ।

तभी मैंने पिंकू को उसी की वीडियो दिखा दी जो मैंने दोपहर में बनाई थी।

  चुदाई में शह और मात- 2

पिंकू बहुत डर गई और बोली- भैया, प्लीज वीडियो डिलीट कर दो. प्लीज भैया, मैं आपके पैर पड़ती हूं, प्लीज यह वीडियो मम्मी पापा को मत दिखाना प्लीज।
वह रोने लगी और बोलने लगी- भैया मुझसे बहुत बड़ी गलती हो गई प्लीज!

मैंने उसे अपनी बांहों में भर लिया और बोला- देख पिंकू, तुझे डरने की जरूरत नहीं है मैं इसके बारे में किसी को नहीं बताऊंगा। पिंकू तू रो मत तूने कुछ गलत नहीं किया है!
यह बोल कर मैं उसे चुप कराने लगा.

मैं उसे समझाने लगा- पिंकू, तू बड़ी हो गई है, सभी लोग ऐसा करते हैं।
इसी बहाने मैं पिंकू से चिपक चिपक कर मजे लेने लगा.

कुछ देर बाद पिंकू शांत हो गई और बोली- भैया, प्लीज किसी को इसके बारे में मत बताना।
मैंने बोला- तू टेंशन मत ले किसी को पता नहीं चलेगा।

फिर मैं बोला- पिंकू, एक बात बोलूं तुझे बुरा तो नहीं लगेगा?
उसने बोला- नहीं भैया बोलिए?

Video: सौतेले भाई ने की कुंवारी कश्मीरी बहन के सेक्सी शरीर की मालिश और फिर चुदाई

मैं बोला- देख तुम बुरा मत मानना मैं तुझे बहुत प्यार करता हूं, प्लीज मेरी गर्लफ्रेंड बन जा।
पिंकू बोली- भैया प्लीज स्टॉप … आप यह क्या बोल रहे हो हम दोनों भाई बहन हैं।
इतना बोल कर पिंकू उठकर जाने लगी।

तभी मैंने उसका हाथ पकड़ लिया और बोला- देख पिंकू, मैं तेरे से बहुत प्यार करता हूं और तेरे बगैर नहीं जी सकता।
उसने बोला- पर भैया, यह सब गलत है हम दोनों भाई बहन हैं।

मैंन बोला- देख तुझे भी तो सेक्स करने की इच्छा होती होगी और जो तुम दोपहर में वीडियो देख रही थी वह भी भाई-बहन वाली है. पिंकू, तू अब बड़ी हो गई है, तेरा मन ही करता होगा कि तेरी कोई चुदाई कर दे।

पिंकू बोली- भैया आप क्या बोल रहे हो, यह सब गलत है. किसी को पता चल गया तो कितनी बदनामी होगी।
मैं बोला- देख पिंकू, मैं किसी को पता नहीं चलने दूंगा, यह बात हमारे दोनों के बीच में रहेगी.

उसे मैं समझाने की कोशिश करने लगा- देख बहन, हम दोनों एक दूसरे की जरूरत है, हमें कहीं बाहर जाने की जरूरत नहीं, हम घर पर ही मजा करेंगे। एक लंड बस चूत के लिए ही बना होता है वह किसी रिश्ते को नहीं देखता है।

पिंकू धीरे-धीरे लाइन पर आने लगी और बोली- भैया, अगर घर में पता चल गया तो क्या होगा?
तो मैं बोला- देख पिंकू मेरे ऊपर भरोसा रख!

मैं इतना बोल ही रहा था कि पिंकू बोली- आई लव यू भैया!
इतना सुनते ही मेरी खुशी का ठिकाना नहीं रहा, मैं बोला- आई लव यू टू मेरी जान, मेरी प्यारी पिंकू!
और इतना कहते ही मैं उसके ऊपर टूट पड़ा।

मैं उसे बेड पर लिटा कर उसके ऊपर पर आकर उसे जोर जोर से किस करने लगा, उसके रसीले होंठों को चूसने लगा और अपने दोनों हाथों से उसके दूध दबाने लगा।

मैंने बताया- पिंकू, मैं आज बहुत खुश हूं. मैं कब से इस दिन के इंतजार में था.
पिंकू बोली- कोई बात नहीं भैया, अब से मैं सिर्फ तुम्हारी हूं. जितनी मर्जी हो उतना चोदो. और इतनी जल्दबाजी क्या है, हमारे पास अभी तीन-चार दिन है।

फिर मैंने उसकी फ्रॉक उतार दी जिससे पिंकू के बूब्स और गुलाबी निप्पल आजाद हो गए.
मैं जोर जोर से चूसने लगा और एक हाथ उसकी पैंटी में डालकर उसकी चूत सहलाने लगा।

अब मैं नीचे की ओर बढ़ने लगा और एक ही झटके में उसकी पैंटी उतार दी, पिंकू मेरे सामने बिल्कुल नंगी थी।

पिंकू उछलकर मेरे ऊपर आ गई और एक-एक करके मेरे सारे कपड़े उतार दिए जिससे कि मेरा लंबा और मोटा लंड आजाद हो गया।

मेरा लंड देखकर पिंकू शर्मा गई और बोली- भैया, आपने तो अंदर खजाना छुपा के रखा है.
मैं बोला- यह खजाना आज से तेरा है जो चाहे कर!

इतना सुनते ही पिंकू मेरे लंड को जोर जोर से चूसने लगी.

अब मेरा मन सातवें आसमान पर पहुंच गया, लंड चूसते हुए पिंकू बहुत खूबसूरत लग रही थी।

अब मैं कंट्रोल से बाहर होने लगा इसलिए मैं उसे ऊपर उठा कर जोर जोर से किस करने लगा.
कुछ देर किस करने के बाद मैं उसे बेड पर सीधा लिटा कर सीधे उसकी चूत चाटने लगा।

पिंकू की प्यारी चूत एक फूल की तरह थी जिसमें गुलाबी पंखुड़ियां दिखाई दे रही थी, अब पिंकू भी गर्म होने लगी और अपने हाथों से मेरे सर को दबाने लगी।
मुझे उसकी चूत चाटने में बहुत मजा आ रहा था.

तभी पिंकू बोली- भैया अब मत तड़पाओ प्लीज, प्लीज मुझे चोद दो, जल्दी से अपना लंड मेरी चूत मे दो और मुझे अपनी बना लो प्लीज!
इतना सुनते ही मैं और जोश में आ गया.

मेरा लंड पूरा लाल हो चुका था, मैं बोला- पिंकू आज तुझे जिंदगी का मजा मिलने वाला है बस 1 मिनट रुक!
इतना कहकर मैं जल्दी से तेल की शीशी ले आया और थोड़ा सा तेल उसकी चूत और अपने लंड पर लगा दिया।

मैंने उससे पूछा- तूने इससे पहले किसी से चुदवाया है?
तो उसने मना कर दिया.

मैं बोला- चल तेरा भाई आज तुझे चोद कर खुश करने वाला है।

पिंकू बेड पर पीठ के बल लेटी हुई थी तो मैंने उसके पैर थोड़ी और फैला दिए और उसके ऊपर चढ़ गया.

अब मेरा लंड उसकी गुलाबी चूत के द्वार पर खड़ा था और अंदर जाने के लिए बेकरार था.

मैंने और देरी न करते हुए जोर से धक्का लगाया जिससे कि आधा लंड उस छोटी सी चूत में चला गया।

पिंकू दर्द मैं छटपटाने लगी और बोली- भैया, प्लीज इसे बाहर निकालो, बहुत दर्द हो रहा है प्लीज!
और जोर-जोर से चीखने लगी।

अब मैं उसे जोर जोर से किस करने लगा और उसके दुद्धू को मसलने लगा जिससे कि कुछ देर बाद पिंकू का दर्द खत्म होने लगा।

मैंने उसे समझाया- देख पिंकू, तेरा फर्स्ट टाइम है इसलिए तुझे दर्द हो रहा है. थोड़ा सा दर्द और होगा फिर तुझे बहुत मजा आने वाला है.
इतना कह कर किस करने लगा.

और तभी एक जोरदार धक्का लगाया जिससे पूरा लंड पिंकू की चूत की गहराई में समा गया।
हॉट डिफ्लोरेशन सेक्स में दर्द के कारण पिंकू फिर से उछल पड़ी.

अब पिंकू की सील टूट गई, मैं उसे और जोर जोर से किस करने लगा और अपने दोनों हाथों से उसके बड़े-बड़े बूब्स को मसलने लगा।

कुछ देर तक ऐसा करने से पिंकू का दर्द कम हुआ और वह फिर से गर्म होने लगी.

मैंने देखा कि पिंकू मुझे जोर जोर से किस कर रही है और अपनी गांड धीरे-धीरे ऊपर नीचे करने लगी।

मैं उसका इशारा समझ गया, फिर मैंने धीरे धीरे उस की चुदाई शुरू कर दी.

अब मेरा लंड बहन की प्यारी चूत पर सटासट जाने लगा.

कुछ देर तक चोदने के बाद पिंकू और गर्म हो गई और मुझे नीचे करके खुद ऊपर आ गई।

अब पिंकू अपनी गदराई गांड जोर-जोर से उठा उठा कर पटकने में लगी, पिंकू धीरे धीरे आहें भर रही थी।
मेरे दोनों हाथ पिंकू की मखमली पीठ और गांड पर घुमने लगे.

फिर मैंने एक हाथ से उसकी चूत को सहलाना शुरु कर दिया।

मैं उसके बूब्स को दांतों से काटे जा रहा था जिससे पिंकू को थोड़ा सा दर्द भी होने लगा.
लेकिन इस जन्नत के सामने वह दर्द बहुत कम था।
मुझे इतना मजा आने लगा कि मैं कहानी के जरिए बता नहीं सकता।

पिंकू भी मदमस्त होकर मेरे लोड़े से चुद रही थी।

लगभग 5 मिनट की धकापेल चुदाई के बाद पिंकू उठी और मेरा लंड चूसने लगी।

अच्छे से लंड चूसवाने के बाद मैंने उससे घोड़ी बनने के लिए कहा.
पिंकू झट घोड़ी बन गई और मैं उसके पीछे आ गया।

मैं बहुत जोश में था इसलिए जल्दी से लंड उसकी चूत में डालकर उसकी चुदाई शुरू कर दी.

मेरी बहन का पिछवाड़ा क्या मस्त लग रहा था, जिसमें मैं थप्पड़ भी लगा रहा था जिससे उसकी गांड लाल हो गई।
फिर मैंने अपने दोनों हाथों से उसकी जांघों को कस कर पकड़ा और जोर-जोर से चोदने लगा।

अब पिंकू भी पूरे जोश में आ गई वह बहुत गर्म हो चुकी थी।
पिंकू बोलने लगी- भैया, प्लीज फक मी यस फक मी प्लीज … और तेज भैया प्लीज, प्लीज भैया और तेज चोदो प्लीज अपना लंड अंदर तक डाल दो, चोद चोद कर मुझे रंडी बना दो। तोड़ दो मेरी सील!

इतना सुनकर मैंने भी अपनी स्पीड बढ़ा दी और जोर-जोर से चोदने लगा.
पूरा लंड मैं उसकी कोमल चूत पर डाल रहा था जिससे मेरे लंड के बगल का हिस्सा जोर-जोर से उसकी गांड में टकराने लगा।

मैं इतना तेज चोद रहा था कि हर शॉर्ट के बाद पिंकू की चीख निकलने लगी, पूरे कमरे में फच फच की आवाज गूंजने लगी।

पिंकू भी पूरे मजे में अपनी गांड आगे पीछे करने लगी.
हम दोनों एक अलग ही दुनिया में पहुंच गए जिसमें सिर्फ मजा ही मजा था।

दुनिया के रिश्ते नाते भूलकर हम दोनों एक दूसरे में समा गए।

लगभग 10 मिनट की पेलम पेल चुदाई के बाद पिंकू का काम रस निकलने वाला था इसलिए पिंकू और तेज चोदने को बोलने लगी।
मैं भी बड़े-बड़े शॉट्स लगाने लगा और एक हाथ से उसकी चूत को सहलाने लगा.

कुछ देर बाद मैं भी झड़ने लगा, मैंने पिंकू की आंखों में देखा, आंखों ही आंखों में स्वीकृति मिलने के बाद मैंने अपना कामरस अपनी प्यारी बहन पिंकू की प्यारी सी चूत में छोड़ दिया और मैं और पिंकू साथ में झड़ गए।

इस घनघोर डिफ्लोरेशन सेक्स में हम दोनों थक गए इसलिए बेड पर ही गिर गए और कुछ देर ऐसे ही पड़े रहे।

मैंने पिंकू से पूछा- पिंकू कैसी रही चुदाई?
पिंकू बोली- बिल्कुल बिंदास भैया, आप तो छुपे रुस्तम निकले। भैया प्लीज वादा करो, आज से तुम मेरी हर रोज ऐसे ही चुदाई करोगे?
मैं बोला- ठीक है पिंकू!

पिंकू बहुत खुश थी उसके चेहरे पर संतुष्टि की लकीरें साफ दिखाई दे रही थी।
और मैं भी बहुत खुश हो गया मेरी इच्छा भी पूरी हो गई।

तभी पिंकू बोली- भैया अगर मैं प्रेग्नेंट हो गई तो?
मैं बोला- पिंकू, तू टेंशन मत ले. मैं किस लिए हूं!
और मैंने उसे गोली लाकर खिला दी जो मैं बाजार से लाया था।

फिर हमने एक दूसरे को किस किया और ऐसे ही बिना कपड़ों के नंगे ही चिपक कर सो गए।

सुबह उठते ही एक बार फिर हमने चुदाई की.

तब से हम एक दूसरे के गर्लफ्रेंड बॉयफ्रेंड बन गए।
मम्मी पापा तीन-चार दिन बाद आने वाले थे इसलिए हमने इसका भरपूर फायदा उठाया और हमने खूब चुदाई की।

अब मैं और पिंकू बहुत खुश हूं और जब भी मौका मिलता है हम दोनों चुदाई कर लेते हैं.

तो फ्रेंड्स यह थी मेरी कहानी!
उम्मीद करता हूं यह सिस्टर डिफ्लोरेशन सेक्स कहानी आपको पसंद आई होगी।
अपने कमेंट्स में बताएं.
[email protected]

Video: भाई ने अकेली बहन को बीवी की तरह चोदा