बाईसेक्सुअल पति ने अपनी बीवी की चूत पेश की-3

कपल डर्टी पोर्न स्टोरी में पढ़ें कि कैसे एक जोड़े ने मेरे साथ गोवा में गन्दा सेक्स किया. पति गांडू था तो उसकी पत्नी ने उसे मेरा और अपना मूत भी पिलाया.

दोस्तो, मैं मानस एक बार फिर से अपनी सेक्स कहानी के साथ हाजिर हूँ.
कहानी के दूसरे भाग
बाईसेक्सुअल पति की बीवी की चूत में लंड
में अब तक आपने पढ़ा था कि रीना की चूत मेरे लंड से चुदने में लज्जत महसूस करने लगी थी.

अब आगे Couple Dirty Porn Story:

रीना को मस्ती से चुदवाते देख मैं बोला- अब आ गयी न रंडी औकात में? देख ले हिजड़े … कैसे तेरी बीवी खुद गांड पटक रही है मेरे लौड़े पर … बहनचोद, चूस अपनी लुगाई की भोसड़ी … हरामी कुत्ते.

मेरा साथ देती हुई रीना भी बोली- हां हूँ मैं रंडी, कुत्ते अब चोद मुझे इस मादरचोद गांडू के सामने … देख ले रंडी के बच्चे, कैसे तेरा बाप मेरी चूत फाड़ रहा है … तेरी मां की चूत गांडू साले.

रीना के बाल छोड़ते हुए मैंने अपने दोनों हाथों से रीना की कमर दबोच ली और जोर जोर से रीना की चूत फाड़ने लगा.
रीना ‘आहह उम्मम्म म उफ्फ मम्मीइ इइ …’ करती हुई चूत चुदवाती रही.

मेरे धक्कों से रीना के फूले हुए चूतड़ थरथरा रहे थे.
थप-थप की आवाजें कमरे में गूंज रही थीं और रीना इन सबसे उत्तेजित होकर और जोर से अपनी गदराई हुई गांड मेरे लौड़े पर पटक रही थी.

रीना की चूत से बहुत ज़्यादा रस बहने के कारण लौड़े की रगड़ कम होने लगी.
पर मेरे पास इसका जालिम उपाय था, तो मैंने झट से मेरा लौड़ा रीना की चूत से निकाला और पॉल के मुँह में दे दिया.

पॉल ने भी ख़ुशी ख़ुशी मेरे लौड़े को चूस चूस कर अपनी बीवी का चूतरस चाट लिया.
पास पड़ी रीना की पैंटी उठाकर मैंने उसे जोर से रीना के फ़टे हुए भोसड़े में भर दी और अन्दर से पूरी चूत सुखा दी.

  प्राइवेट सेक्रेटरी की अदला बदली करके चुदाई-2

मेरा लौड़ा चूसने के बाद पॉल ने रीना को फिर से उल्टा घुमाकर उसकी गांड अपने मुँह में भर ली.
इस वजह से अब रीना टांगें खोले मेरे सामने अपनी नंगी भोसड़ी का प्रदर्शन कर रही थी.

जैसे ही पॉल ने अपनी जीभ रीना की गांड में घुसाई, वैसे ही रीना की आंखें लाल होने लगीं.
मेरी आंखों में देख कर जैसे वो मुझे चुदवाने की भीख मांग रही थी, पर मैं उसे और तड़पाने के लिए वैसे ही लौड़ा सहलाते हुए खड़ा रहा.

कुछ देर ऐसे ही मैं रीना को देखता रहा, पर मेरे लौड़े में भी ऐसी आग लगी थी कि मैं रीना की चूत की तरफ खिंचा चला गया और एक ही झटके में पूरा लौड़ा अन्दर घुसाते हुए ताबड़तोड़ चुदाई करने लगा.

रीना की दोनों टांगें फ़ैलाते हुए मैंने उसके दोनों चूचे मुट्ठी से आटे की तरह गूँथ दिए और उसकी दोनों टांगें फैलाकर चुदाई का मजा लेने लगा.

पॉल अब भी रीना की गांड अपनी जीभ से चोद रहा था और मेरा लौड़ा उसकी बीवी की चूत की मां चोद रहा था.

रीना किसी धंधेवाली रांड की तरह आवाजें निकाल निकाल कर चुद रही थी.

वह अपनी गांड को अपने पति के मुँह पर रगड़ती हुई बोली- आअहह मानस फक मी हार्ड … आह हम्म्म उफ्फ चोदो मुझे … फाड़ दे मेरी भोसड़ीई और जोर से जोर से राजाआ!

मैंने रीना के दोनों चूंचे और कसके दबाते हुए कहा- ले मादरचोद, तेरी मां का भोसड़ा … साली लावारिस कुतिया … साली तेरी मां भी तेरे जैसी दो कौड़ी की रंडी होगी बहनचोदी … चुद ले मेरे लौड़े से गांडू की बीवी.

रीना की आंखों में वासना की आग साफ़ दिखाई दे रही थी. मेरे लौड़े से चुदते हुए और पॉल की जीभ से खुद की गांड की मालिश करवाते हुए रीना सच में पक्की बाजारू रंडी की तरह दिख रही थी.
पर ये खेल ज़्यादा देर नहीं चलने वाला था.

  आओ मिलकर हम एक दूसरे की बीवी चोदें

रीना को दोनों तरफ से मिलने वाले मज़े से उसकी आंखों में जैसे ख़ून चढ़ गया था.
चुदाई के इस खेल में अब रीना मेरे लौड़े पर कभी भी मूतने वाली थी.

रीना के बड़े बड़े चूचे मसल मसल कर मैं उनके निप्पल अपनी उंगलियों से मरोड़ रहा था; कभी उसको चूमते हुए जोर से उसके होंठों को काट दे रहा था.

और इस सबका परिणाम भी जल्द ही दिखने लगा.
रीना किसी मंझी हुई रंडी की तरफ हुंकार भरने लगी.
उसकी गुर्राने की आवाज से मुझे साफ़ पता चल रहा था कि रीना की चूत अब जमकर बरसने वाली है.

ऐसी घमासान चुदाई के चलते अब मेरा लौड़ा रीना के बच्चेदानी पर वार करने लगा और रीना इस घाव से बच नहीं सकी.
‘आअह्हह मांआआ …’ की किलकारी भरती हुई रीना ने मुझे अपनी बांहों में भर लिया.

रंडी रीना के चूत का बांध फूट पड़ा.
उसका चूतरस मेरे लौड़े को नहलाता हुआ बाहर की तरफ छलक पड़ा और मेरा पेट, लौड़ा और टट्टे भिगोते हुए पॉल का चेहरा भी गीला करता हुआ नीचे टपकने लगा.

रीना भले ही झड़ रही थी, पर मैं उसकी चिंता किए बिना पूरी ताकत से चोदता रहा.
झड़ती हुई औरत की चुदाई करने का सुख मैं खोना नहीं चाहता था.

कुछ ही देर में मुझे मेरे लौड़े में भी सुरसुरी महसूस होने लगी.
मेरे टट्टों में एक कठोरता भरने लगी थी, तो मैं समझ गया कि मेरे झड़ने का समय भी अब नजदीक आ चुका है.

रीना की दोनों टांगें अपने कंधे पर रखते हुए मैंने रीना को पॉल के ऊपर लिटाया और बिस्तर पर चढ़ गया.
मेरे लौड़े का सुपारा अब निश्चित रूप से रीना की चूत के आख़री छोर तक घुसकर बाहर आ रहा था.

पॉल बेचारा हमारे नीचे दबा पड़ा था, पर ना तो मुझे उसकी कोई चिंता थी और ना ही उसकी बीवी रीना को.
रीना दोनों टांगें फ़ैलाये अपने गांडू पति पर लेटी हुई थी.

‘आअह उम्म्म्म मां मर गयी बहनचोद …’ जैसी कामुक आवाजें और गालियां देती हुई रीना भी मस्ती से चुद रही थी कि तभी मेरे लौड़े ने मुझे धोखा दे दिया.

मैं पूरे जोर से अपना लंड रीना के बच्चेदानी के अन्दर घुसाते हुए गुर्राने लगा और उस नर्म नर्म मख़मली स्पर्श का स्वर्गसुख लेते हुए रीना के बच्चेदानी में अपने वीर्य की बौछार करने लगा.

मैं रीना को मेरे नीचे दबाकर एक के बाद एक वीर्य की पिचकारियां रीना की फटी हुई भोसड़ी में खाली करते हुए झड़ने का मज़ा ले रहा था.
रीना ने भी मुझे कसके अपनी बांहों में भर लिया था और वो मेरे गर्म माल को अपनी कोख़ में समाने लगी थी.

हमारे नीचे लेटा उसका गांडू पति पॉल मेरे टट्टे फिर से मुँह में भरके चूसने लगा.
वीर्य की आखिरी बूंद टपकने तक मैं ऐसे ही रीना के ऊपर पड़ा रहा.

जैसे ही मेरे लंड का सारा माल रीना की चूत ने चूस लिया, मैं धीरे धीरे अब उसके बदन से ऊपर उठने लगा.

Video: बीमार लड़के ने अपनी केयर टेकर को चोद दिया

रीना की चूत में मेरा फंसा लौड़ा अब भी थोड़ा कड़क था.
मैं अपने घुटनों पर बैठ गया और मेरी गांड नीचे लेटे पॉल के मुँह पर दबती चली गयी.

कुछ देर पॉल से गांड साफ़ करवाने के बाद मैं लंड को बाहर की तरफ खींचने लगा तो पॉल स्फूर्ति से अपना मुँह खोलकर मेरे वीर्य का स्वाद लेने के लिए आगे खिसक आया.

जैसे ही मैंने अपना लंड रीना की चूत से बाहर निकाला, मेरे गाढ़े सफ़ेद वीर्य ने रीना की चूत से बाहर आना चालू कर दिया.

पॉल भी शायद इसी इंतजार में था कि कब मैं लंड बाहर निकालूँ और कब वो अपनी बीवी की चुदी-चुदाई चूत से मेरे वीर्य को चाट सके.

रीना को भी अच्छे से पता था कि उसका गांडू पति कैसे किसी मर्द के वीर्य के लिए प्यासा है.
उसने ख़ुद को आगे ले जाते हुए अपनी फुद्दी उस गांडू के मुँह में दे दी.

अपने हाथों का सहारा लेकर रीना पॉल के सीने पर बैठ गयी और उसके बाल पकड़ कर उसने पॉल का मुँह जोर से अपने भोसड़ी पर दबा दिया.

दोनों हाथों की उंगलियों से अपने फुद्दी की पंखुड़ियां खोलती हुई वो पॉल से बोली- देख ले मादरचोद आज फिर से चुद गयी मैं तेरे बाप से … अब साफ़ कर अपनी मां की चूत भोसड़ी के, देख कैसे तेरे बाप का माल निकल रहा है मेरे भोसड़े से कुत्ते!

मेरा वीर्य जैसे जैसे रीना की भोसड़े से बहने लगा, वैसे वैसे पॉल बिना किसी संकोच के किसी दूसरे मर्द का अपनी बीवी की चूत से चाटने लगा.
रीना ने भी अपनी दो उंगलियां अपने फुद्दी में घुसाते हुए मेरा बचा-खुचा वीर्य भी बाहर निकाल दिया.

पॉल भी रीना की चूत और मेरे वीर्य से भरी उसकी उंगलियां बड़े मज़े से चाटने लगा.
कुछ ही देर में उसने अपनी बीवी की चुदी-चुदाई चूत और उसकी उंगलियां चाट कर अच्छे से साफ़ कर दीं.

रीना की फुद्दी अब फिर से चिकनी चमेली की तरह चमक रही थी.
चुदाई के समय रीना की चूत से निकलते चूतरस से मेरा लौड़ा भी सफ़ेद हो चुका था.
मेरे वीर्य और रीना के चुतरस के मिश्रण से मेरा काला लंड भी सफ़ेद रंग में रंग चुका था.

रीना ने मेरे लौड़े को पकड़ कर फिर से पॉल के मुँह में दबाते हुए कहा- इसे क्या तेरा बाप आकर साफ़ करेगा बहन के लौड़े … चूस कर साफ़ कर रंडी की औलाद … तेरी वजह से दुनिया भर की रंडी बन चुकी हूँ मैं मादरचोद … चूस अच्छे से कुत्ते!

पॉल ने शौक से मेरे लंड को अपने मुँह में भर लिया और किसी पालतू कुत्ते की तरह मेरा लंड पर लगा सफ़ेद पानी चाटने लगा.
मेरे लौड़े को मुँह में लेकर चूसते पॉल को देख कर रीना मेरी तरफ देख कर कुटिल मुस्कान भरने लगी.

तो मैंने भी उसको चूमते हुए उसकी चुचियों को प्यार से सहला दिया.

चुदाई का दौर खत्म होते ही मेरी नजर घड़ी की तरफ गयी तो रात के साढ़े आठ बज चुके थे. मतलब पिछले डेढ़ घंटे से रीना और पॉल के साथ मैं जमकर मजे ले चुका था.

चुदाई के बाद मेरे लौड़े ने मूत निकालने का इशारा किया तो मैं वैसे ही बाथरूम की तरफ चल पड़ा.

पर तभी रीना ने मुझे आवाज देते हुए रुकने को कहा.
मैंने पलट कर देखा तो रीना, पॉल के ऊपर से हटते हुए नीचे उतर गयी और वैसे ही नंगी मेरे तरफ आ गयी.
उसका बदन मेरे चुदाई की जुल्मी कहानी बयान कर रहा था.

मेरे पास आते ही रीना मुझसे लिपट गयी और मुझे चूमने लगी.
रीना का गदराया बदन सहलाते हुए मैं भी उसकी गांड हल्के हल्के दबाने लगा और पॉल बिस्तर पर लेटे हुए हमको स्माइल देने लगा.

मुझे चूमना रोकते हुए रीना पॉल को देख कर बोली- वहां क्या अपनी मां चुदा रहा है … आ जा मेरा मूत पीने भोसड़ी के. आज तो तू अपने बाप का भी मूत पी ले हरामज़ादे.

मूत पिलाने की बात सुनकर मैं बहुत ही ख़ुश हुआ और पॉल को देखते हुए कहा- आ जा मेरी रांड के हिजड़े गांडू बेटे … आज बाप के लौड़े का मूत भी पी ले भोसड़ी के.
हम दोनों के बुलावे से पॉल भी कूद कर हमारे पीछे पीछे बाथरूम की तरफ चलने लगा.

रीना गुस्से में बोली- अबे मादरचोद, कुत्ते की तरह रेंगते हुए आ ना … औकात भूल गया क्या रंडी के पिल्ले?

पॉल रीना का गुस्सा देख वहीं नीचे ज़मीन पर बैठ गया और कुत्ते की तरह हमारे पीछे रेंगते हुए आने लगा.
उसकी वफ़ादारी देख कर रीना और मैं एक दूसरे को देख कर मुस्कुराने लगे.

बाथरूम में आते ही रीना ने टॉयलेट के दोनों आवरण ऊपर कर दिए और पॉल को इशारा करते हुए अपने पास बुलाया.

पॉल ने भी चुपचाप टॉयलेट के पॉट के अन्दर अपना मुँह घुसा दिया.
रीना ने एक हाथ से मेरा लौड़ा सहलाकर मुझे पॉल के पास खड़ा करते हुए उसके मुँह पर मूतने का इशारा किया और दूसरे हाथ से पॉल का मुँह खोल कर उसके मुँह में थूक दिया.

पॉल के मुँह पर थूकते हुए उसने पॉल को एक ज़ोरदार चांटा मारते हुए कहा- मुँह खोल ना कमीने … मां की चूत तेरी कुत्ते. अब देख कैसे तेरा बाप का लौड़ा तेरे मुँह में मूतेगा.

लम्बी चुदाई के बाद मुझे भी जोर से पेशाब लगी थी और जैसे ही पॉल ने अपना मुँह खोला, तो मैं भी अपने लौड़े का नल चालू करते हुए पॉल के मुँह में निशाना लगाते हुए मूतने लगा.
मूत की धार पॉल के मुँह पर जाते ही पॉल मजे से मेरा मूत पीने लगा.

पॉल का पूरा चेहरा मूत से गीला होने लगा, पर वो किसी ईमानदार गुलाम की तरह मेरा मूत पीने लगा था.

रीना ने भी अपना मुँह आगे करते हुए मूत की धार अपने मुँह में ले ली और खुद पीने की बजाय उसे मुँह में भर कर पॉल के मुँह पर थूक दिया.
पॉल ने बिना किसी शिकायत अपनी बीवी के मुँह से मेरा मूत भी निगल लिया.

जैसे ही रीना ने ये हरकत की, तो मैंने रीना के बाल पकड़ते हुए मेरा लौड़ा उसके मुँह की तरफ कर दिया.
उस रंडी ने भी अपना मुँह खोल दिया और बड़े चाव से मेरे मूत को अपने पेट में लेने लगी.

अब रीना और पॉल का मुँह टॉयलेट के पॉट पर था और मैं उन दोनों मियां-बीवी के मुँह पर मूत रहा था.
मेरे मूत की धार कभी रीना तो कभी पॉल के मुँह में गिर रही थी.

धीरे धीरे पूरा मूत निकालने के बाद मैंने रीना और पॉल का मुँह टॉयलेट के पॉट के अन्दर पूरा दबा दिया और दोनों पॉट में गिरे मेरे मूत को किसी कुत्ते-कुतिया की तरह चाटने लगे.

मेरे मन की भड़ास और वासना की सीमा को छू लेने के पश्चात मैंने उस दोनों का सर मेरे चुंगल से आज़ाद कर दिया.

पर रीना ने पॉल को वहीं दबाते हुए उसके मुँह पर अपनी चूत को दबा दिया.

मुझे पता चला कि रीना भी अपनी भड़ास निकालने के लिए अपने पति पॉल के मुँह पर मूतने वाली है, तो मैं चुपचाप खड़ा होकर उनके कामुकता का खेल देखने लगा.

रीना खड़ी होकर फिर से पॉल के मुँह पर थूकते हुए अपनी गीली चूत पॉल के मुँह पर तब तक रगड़ने लगी, जब तक उसकी चूत से मूत की धार ना निकल जाए.

जैसे ही रीना के चूत से पेशाब निकलने लगी तो वो पॉल को गालियां देती हुई बोली- ले बहन के लंड, मेरे नामर्द गांडू बेटे, अपनी मां की चूत का मूत भी पी ले … तू बहनचोद हिजड़े साले रंडी है मेरी.

पॉल रीना का मूत मुँह में लेकर मज़े से पीने लगा.
अपनी एक टांग हवा में उठाती हुई रीना अपना पूरा भोसड़ा अपने गांड मरवाने वाले पति के मुँह में ख़ाली करने लगी.

रीना का सारा पेशाब पीने के बाद उसके पति ने रीना की चूत मुँह में ले ली और उसके बचे हुए मूत को भी चाटने लगा.

कुत्ते जैसे लपलप करते हुए पॉल अपनी बीवी का मूत चटखारे लेकर पी गया.

हवस का ये खेल खत्म होते ही रीना ने पॉल की गांड पर लात मार कर बाथरूम से बाहर भेज दिया और ख़ुद मेरे साथ शॉवर के नीचे नहाने लगी.
मेरे लौड़े और टट्टों की अच्छे से सफ़ाई करके रीना ने मेरे लंड को चमका दिया.

हमारी जिस्मानी भूख तो मिट चुकी थी पर पेट की भूख को मिटाने के लिए हम तीनों तैयार होकर होटल के नीचे बने भोजनालय के तरफ चल पड़े.

रीना सबके सामने मेरा हाथ हाथों में पकड़ कर ऐसे चल रही थी, जैसे कि मैं ही उसका पति हूँ, पॉल तो बेचारा हमारे पीछे पीछे किसी गुलाम की तरह चल रहा था.

खाने के दौरान भी रीना मुझे जानबूझ कर बता रही थी कि कैसे उसे मेरे लौड़े से चुदवाकर मजा आ गया.
पॉल की तरफ देख कर मैं भी उसे कोसने लगा, पर पॉल को इस बात का जरा भी बुरा नहीं लगा.

पॉल अपनी बीवी की चुदाई करवा कर और मेरे लौड़े का वीर्य पीकर इतना खुश था कि उसने आज की रात उसकी बीवी मेरे नाम कर दी, पर शर्त ये थी कि मैं भी उसकी गांड जमकर चोदूँगा.

रीना जैसी भरी हुई जिस्म की औरत को चोदने के लिए मैं पॉल जैसे दस गांडू की गांड मारने के लिए तैयार था.

मैंने भी हंसते हुए पॉल की ये शर्त स्वीकार कर ली.
खाना खाकर हम तीनों बाहर बने गार्डन में गप्पें मार ही रहे थे कि मुझे मेरे मोबाईल पर मेरे एक पुरानी जुगाड़ को कॉल आ गया जो संयोग से गोवा के आसपास ही थी.

वो ख़ुश हो गयी और मेरे गोवा में आने के बारे में सुनते ही वो मुझसे मिलने की ज़िद करने लगी.
मैंने रीना की इजाजत लिए बिना ही उसे अपने होटल का पता दे दिया.

अपने वादे के मुताबिक़ मैंने उस रात को भी दारू के जाम का मज़ा लेते हुए रीना और उसके गांडू पति पॉल की जमकर चुदाई की.
पूरी रात पॉल की गांड और रीना की भोसड़ी मेरे लौड़े से चुदता रही.

रीना जैसी हवस में अंधी होकर चुदवाने वाली औरत के साथ मैंने भी वासना के ऐसे ऐसे मुकाम हासिल किए कि जिंदगी के सारे मजे उस एक रात में ही समा गए थे.

रात भर की घमासान चुदाई के बाद रीना ने अपने पति को मेरे पट्टे से बांधकर कमरे के एक कोने में नंगा ही सुला दिया और रात भर वो नंगी होकर मेरे साथ चिपक कर सोती रही.

अगले दिन मैं अपनी पुरानी दोस्त मिंकी से मिला.
रीना और पॉल भी मिंकी से मिलकर और उसकी असलियत जानकर बहुत खुश हुए.
उन्होंने एक और दिन मेरे और मिंकी के साथ बिताने का फ़ैसला किया.

अगले दो दिन हमारे बीच में क्या हुआ, कैसे हम चारों ने मिलकर कामवासना एक अलग अध्याय लिखा, इसके बारे में जानने के लिए मेरी अगली सेक्स कहानी का इन्तजार कीजिये.

तब तक के लिए आप सब अपना ख्याल रखें और मुझे मेल में लिखें कि आपको यह कपल डर्टी पोर्न स्टोरी कैसी लगी.
[email protected]

Video: भाई ने अकेली बहन को बीवी की तरह चोदा