बॉस की सेक्सी बेटी के दोनों छेद चोदे

दोस्तो, मेरा नाम मनुज है. मैं छोटे से गांव का रहने वाला हूं. मेरी उम्र 24 साल है. कद 5 फीट 7 इंच है और मेरी बॉडी फिट और गठीली है. दोस्तो, यह हॉट गर्ल एनल फकिंग स्टोरी कुछ सालभर पुरानी है जो मैं आपको अभी बताने जा रहा.

अब आगे Hot Girl Anal Fucking Story:

पुणे में एक कंपनी में मेरी नयी जॉब लगी. मैं उस समय पुणे में नया नया था; न रहने को घर था न कुछ ठिकाना! मैंने अपनी कंपनी के मैनेजर से रहने के लिए कोई जगह के बारे में पूछा तो उसने मुझे बोला कि मेरे पास एक जगह अलग से है, वहां पर रह सकते हो. उसी वक्त से मेरी मैनेजर के साथ अच्छी बनने लगी. मैं उनके फ्लैट में शिफ्ट हो गया.

4-5 दिन बाद मैनेजर के घर में कोई प्रोग्राम था जिसमें उसने मुझे बुलाया. मैं उनके घर पहली बार गया था. कार्यक्रम में मेरी नजर एक लड़की पर गई. बाद में पता चला कि वह तो मैनेजर की ही बेटी है. मैंने उससे पहले ऐसी लड़की कभी नहीं देखी थी. मैनेजर की दो लड़कियां थीं और 1 लड़का था. पहली लड़की जिसकी उम्र 23 साल थी और नाम वर्षा था. वो एकदम से कोमल कली के जैसी थी और लगता था कि स्वर्ग से खास तराश कर भेजी गई है.

मेरे मैनेजर की दूसरी लड़की का नाम अनुष्का था. वो 21 साल की थी. वो भी किसी हिरोइन से कम नहीं थी. वो सनी लियोनी की तरह दिखती थी. दोनों बहनें एक दूसरे से बढ़कर थीं. धीरे धीर मैंने पार्टी में उन दोनों से दोस्ती कर ली. बात करने पता चला कि उसके पापा उनको घर से बाहर निकलने ही नहीं देते हैं. उन्होंने मुझसे काफी सारी बातें कीं. उनसे बात करके लगा कि वो पहली बार किसी लड़के से इतनी सारी बातें कर रही हैं.
पार्टी खत्म हो गई और मैं अपने रूम पर आ गया. फिर 2-3 दिन बाद मैं मैनेजर साहब के घर गया. मैं एक फ़ाइल पर साइन करवाने गया था.

मगर वहां जाकर पता चला कि वो अपनी वाइफ के साथ कहीं गये हुए हैं. उस दिन अनुष्का और उसका छोटा भाई, दोनों घर पर थे. उसने मुझे अंदर बुलाया और बैठने को कहा. कुछ देर के बाद उसका भाई अपने रूम में चला गया.
अनुष्का कॉफ़ी बनाकर ले आई. हम दोनों बैठे रहे, बातें करते रहे. हमने एक दूसरे का नम्बर ले लिया. मैं शुरू वाले दिन से अनुष्का की चुदाई के सपने देख रहा था. आज जब वो सामने थी तो लंड बैठ ही नहीं रहा था.

  बॉलीवुड अभिनेत्री को गाड़ी चलाना सिखाया-1

किसी तरह से मैंने कंट्रोल किया और मैं वहां से वापस आ गया. रात में अनुष्का का मैसज आया. हम दोनों ने नॉर्मल बात की. हम दोनों की बात बढ़ती गई. अब हम फोन पर रात में कॉल पर बात करने लगे और बातें धीरे धीरे प्यार में बदल गईं. उसका मेरे लिए प्यार बहुत बढ़ गया. अब फ़ोन सेक्स भी होने लगा.

कभी हम व्हाट्सएप पर सेक्स चेट करते तो कभी कॉल पर फोन सेक्स करते. मगर मुझे बाद में पता चला कि वर्षा भी मुझसे बीच बीच में चैट करती थी. कुछ दिनों बाद उनके मम्मी-पापा 2 दिनों के लिए अपनी बहन के यहाँ चले गए. अब उनके घर में उनकी दो कोमल और नाजुक सी, फूल सी कालियां और उनका लड़का था.

अनुष्का ने अभी तक सेक्स नहीं किया था. मगर वर्षा बहुत बार अपने एक्स-बॉयफ्रेंड से चुद चुकी थी जो अनु ने मुझे बताया था. मगर उसने कभी गांड नहीं मरवाई थी. इसलिए अब उसकी गांड की खुजली जल्दी ही शांत होने वाली थी. मैनेजर साहब अपनी पत्नी के साथ बाहर गए हुए थे तो मैंने सोचा कि यह मेरे लिए सही मौका है.

वर्षा ने मुझसे बहुत बार बातों बातों में बहुत कुछ कहना चाहा लेकिन अनुष्का की वजह से मैंने उसकी बातों पर गौर नहीं किया. अनुष्का को मैं प्यार से अनु बोलता था. मैंने उसे रात में सेक्स के लिए राजी कर लिया. वो अपने रूम में अलग सोती थी. मैंने पहले ही स्टेमिना और जोश के लिए गोली खा ली थी. अब रात हुई, मैं उनके घर गया. करीब 10 बजे अनु ने दरवाजा खोला और मुझे अपने रूम में ले गई. उस दिन अनु ने ब्लैक नाईट ड्रेस पहनी थी और अंदर मैंने रेड कलर की ब्रा-पैन्टी पहनने को बोला था. हम दोनों कमरे में अकेले थे तो मैंने उसको किस करना शुरू किया. वो भी मुझे किस करने लगी. यह खेल 15 मिनट तक चलता रहा.

  अजनबी लड़के के साथ चुत चुदाई का मजा

फिर मैंने उसकी नाईट ड्रेस उतार फेंकी. अब वो मेरे सामने एक परी की तरह खड़ी थी. गोरे गोरे हाथ पैर और गोरा सा पेट! मुझे उसको किस करने का मन हुआ. मैंने उसको लिटाया और उसकी टांगों को किस करना शुरू किया.
धीरे धीरे वो सिसकारियां लेने लगी. मैं उसके पेट पर भी किस कर रहा था. मुझे पता चल गया था कि ये पहले नहीं चुदी है. कुछ देर किस करने के बाद मैंने अपने कपड़े भी उतार दिए. मैं अंडरवियर में बेड पर चढ़ गया.

मैंने उसके दूधों को उसकी ब्रा से आजाद कर दिया. उसके मम्मों को मैंने हाथों में लेकर मसलना शुरू कर दिया. उसके दूध बहुत टाइट थे. उसको दर्द हो रहा था तो वो मना करने लगी. मगर मेरा लंड तो फटने को हो रहा था. मेरा लंड उसकी चूत को चोदने के लिए बेताब था. मैंने अब उसकी पैंटी उतार दी. अब वो मेरे सामने बिल्कुल बिना कपड़ों के लेटी थी. उसकी चूत बिल्कुल टाइट और क्लीन थी. अब मेरे लन्ड ने भी फुंफकारना चालू कर दिया था.

ज्यादा समय न लेते हुए मैंने उसकी चूत पर किस करना चालू किया ताकि चोदने में उसको एकदम से दर्द न हो और वो डरे नहीं. मैं करीब 10 मिनट तक चूत को चाटता रहा; वो सिसकारियां लेती रही. फिर उठकर मैंने अपने लन्ड को निकाला तो अनु चौंक गई. वो बोली- इतना बड़ा!! इतने में मैंने उसके दूधों के बीच में लंड को दबा दिया और उसकी चूचियों को चोदने लगा. मेरा लंड उसके होंठों को छूता और वापस आ जाता.

मैंने लंड को अच्छी तरह धो लिया था ताकि उसका पहला अनुभव खराब न हो.
धीरे धीरे मैं उसके होंठों पर लंड को फिराता रहा.
उसको भी ये ठीक लगा.

उसने मुंह खोल लिया था. अब मैंने धीरे से उसके मुंह में लंड दे दिया और उसको चुसवाने लगा.

  मौसेरे भाई संग सुहागरात मनाने के चक्कर में चुद गयी- 3

पहले तो वो मरे मन से चूस रही थी लेकिन बाद में उसने अच्छे से चूसना शुरू कर दिया.

अब मैं जन्नत की सैर करने लगा.
मैंने उसके सिर को पकड़ लिया और अंदर तक पेलने लगा.
मेरा लंड काफी लम्बा था तो उसको उल्टी होने लगी और वो मेरे हाथों पर मारकर छुड़ाने लगी.

उसके बाद मैंने लंड को बाहर निकाल लिया.
उसने पानी से कुल्ला किया और फिर हम लेट गए.

Video: पंजाबी कुड़ी की चूत की खुजली बाय्फ्रेंड ने दूर की

लेटे हुए मैं उसकी चूत को उंगलियों से सहलाता रहा.

अब उसकी चूत में लंड देने की बारी थी.
मैंने अनु की चूत की फांकों में लन्ड को रगड़ना चालू किया.
वो सिसकारियाँ भरने लगी.

रगड़ते रगड़ते मैंने लन्ड का टोपा अंदर किया तो वो दर्द से चिल्ला उठी.

फिर मैंने लंड को बाहर निकाल लिया.
उसने चुदने से मना कर दिया.

फिर मैंने दिमाग लगाया और उसको अपने पैर फैलाने को बोला.

मैंने दोबारा से उसकी चूत पर लंड को रगड़ना शुरू किया.
उसके बाद मैंने उस पर थोड़ा थूक लगाया, उसकी चूत की फांकों पर भी थूक लगा दिया.

उसके बाद मैं उसके ऊपर लेट गया.
मेरा लंड उसकी चूत के मुंह पर टिका था.

मैंने उसकी आंखों में देखकर उसको आई लव यू कहा और धीरे से तेज धक्का देकर उसकी चूत में लंड घुसा दिया.

उसकी चीख निकल गई.
मुझे पता नहीं था कि उसकी चीख वर्षा के रूम तक चली जाएगी.

हमारे रूम में एक खिड़की थी जो खुली थी. उस पर हमने ध्यान नहीं दिया.

इधर अनु की चूत से खून निकलने लगा.
वो लगातार कह रही थी कि उसको नहीं करना है.

मैंने अनु को नहीं बताया कि उसकी चूत से खून आ रहा है.
बस यही बताया कि बहुत दर्द होता है पहली बार में लेकिन फिर नहीं होता.

अब अनु कसकर मुझे पकड़े हुए थी.

उधर वर्षा खिड़की में से हम दोनों की हरकतों को मोबाइल में रिकॉर्ड कर रही थी.

थोड़ी देर बाद मैंने आराम आराम से लण्ड को अंदर बाहर करना शुरू किया.
अब उसको अच्छा लगने लगा. था.

मैंने फिर उसके मुंह पर हाथ रख कर जोर का धक्का दिया और लन्ड पूरा अंदर कर दिया.

अब अनु की आंखों से आँसू निकलने लगे और वो ऊपर की तरफ उठने लगी.
मगर मैंने उसको कसकर पकड़ा था इसलिए वो कुछ नहीं कर पाई.

मैं उसे किस करने लगा, धीरे धीरे उसका दर्द दूर हो गया.

मैंने आराम आराम से उसको चोदना शुरू किया और उसकी सिसकारियां तेज होने लगीं.
कुछ देर बाद वो आह्ह … आह्ह करके चुदने लगी.
धीरे धीरे मैं अपनी स्पीड को बढ़ाने लगा.

अब दोनों के मुंह से आह्ह … आह्ह … करके सिसकारियां निकल रही थीं और पूरा कमरा हमारी चुदाई की आवाजों से गूंज रहा था.

मैंने सोचा कि यही मौका है इसकी गांड मारने का भी.

मैंने जानबूझकर उसकी चूत से लंड को निकाल कर गांड पर सटाया और टोपा अंदर कर दिया.
वो चिल्ला उठी और मुझे हटाने लगी.

मैं बोला- जान … अगर आज तुमने रोका तो कभी नहीं ले पाओगी पीछे! इसमें और भी ज्यादा मजा है, बस पहली बार में ही दर्द होता है.

वो फिर भी मना करती रही लेकिन मैं उसको मनाता रहा.
मैंने कहा- बस एक मिनट करने दो, फिर मैं खुद निकाल लूंगा.
वो किसी तरह मान गई.

फिर मैंने धीरे धीरे उसकी गांड में लंड को घुसाना शुरू किया.
आधा लंड ही जा पाया और उसके बाद लंड फंस गया.
मैंने वहीं पर उस हॉट गर्ल के साथ एनल फकिंग शुरू कर दिया.

वो लगातार निकालने के लिए कहती रही लेकिन मैं नहीं रुका.

मैंने दो मिनट का बोलकर उसकी 15 मिनट तक गांड चुदाई कर डाली; उसकी गांड का उद्घाटन कर दिया.

चोदने के बाद फिर मैंने उसकी गांड में वीर्य छोड़ दिया और हम बेसुध से लेट गए.

कुछ देर बाद फिर से मैंने उसकी चूत में लंड को रगड़ना शुरू किया.
मेरा लंड धीरे धीरे फिर से खड़ा होने लगा.

फिर मैंने उसकी चूत में लंड दिया और उसको दस मिनट तक चोदा.

वर्षा अब तक हम दोनों का वीडियो बनाकर ले जा चुकी थी.

सुबह 6 बजे मैं अपने रूम पर आ गया.

कुछ समय बाद अनु का कॉल आया कि दीदी ने तुम्हें देख लिया था मेरे साथ!
मैं बोला- तुम उसकी चिंता मत करो. मैं उसको संभाल लूंगा.

फिर वो बोली- गांड में बहुत दर्द हो रहा है आज!
मैंने कहा- बस एक दो दिन रहेगा फिर सब नॉर्मल हो जाएगा.

फिर करीब 10 बजे वर्षा का कॉल आया कि मेरे पास तुम्हें दिखाने के लिए कुछ है.
उसने व्हाट्सएप पर हम दोनों की वीडियो भेजा.

मैं डर गया और मेरे जैसे होश ही उड़ गए.
मैंने उससे कहा कि इसे डिलीट कर दो, तुम जो कहोगी मैं करने के लिए तैयार हूं.

वो बोली कि जो अनु के साथ किया है वो मेरे साथ भी कर लो. मगर अनु को इस बारे में पता नहीं चलना चाहिए.
मैं अनु को खोना नहीं चाहता था इसलिए मैं तैयार हो गया.
हम दोनों होटल में गए और रूम ले लिया.

अंदर जाकर वर्षा बोली- जैसी ताकत तू कल अनु पर दिखा रहा था वैसी मुझ पर तो दिखा?
मैं बोला- मैंने कोई ताकत नहीं दिखाई, बस उसने पहली बार लंड लिया था इसलिए उसकी ऐसी हालत हो गई थी.

फिर वो कुछ नहीं बोली और अगले ही पल मेरी पैंट खोलकर मेरे लंड को चूसने लगी.
मैंने उसके बाल पकड़ कर उसके मुंह में झटके देने शुरू किए.

कुछ ही देर में उसके मुंह से थूक बाहर आने लगा.
उसके थूक में मेरा पूरा लंड गीला हो गया मगर वो चूसती रही और फिर मेरा माल भी अंदर ही पी गयी.

अब वो कहने लगी- अब तू मेरी चूत को गर्म कर.

मैंने भी उसको बिना कपड़ों के लिटा दिया और उसकी चूचियों पर हमला कर उन्हें जोर जोर से मसलने लगा.
कुछ देर उसकी चूचियों को पीने के बाद मैंने जीभ का काम शुरू किया और उसकी चूत पर चलाने लगा.

उसकी चूत और चूचियां अब दोनों लाल हो गई थीं.
मेरा लंड भी अब सलामी देने लगा था.

फिर मैंने कंडोम पहना और उसे घोड़ी बनाकर उस पर चढ़ गया.

मैंने उसको बालों से पकड़ लिया और उसकी चूत में लंड पेलते हुए उसकी सवारी करने लगा.
वो भी रंडियों की तरह चुद रही थी.

मैंने सोचा कि चूत तो ये चुदवा ही लेगी, पहले इसकी गांड मारता हूं.

अब मैंने कंडोम हटाकर उसकी गांड के छेद पर लंड रखा और धकेल दिया.
वो आगे भागने लगी लेकिन मैंने उसको बालों से पकड़ा हुआ था.

मगर लंड सूखा था तो मैंने वापस से निकाला और उसके मुंह में दे दिया.
उसने चूस चूसकर मेरा लंड गीला कर दिया.

फिर मैंने दोबारा से उसकी गांड में लंड लगाया और चोदने लगा.

उसके बाल पकड़ कर मैंने उसको धक्का देना शुरू किया.
वो चीखने लगी और कहने लगी- गांड मत मारो … बहुत दर्द हो रहा है.

मैंने कहा- साली कुतिया, तुझे ही चुदने का शौक था मेरे लंड से, अब क्यों रो रही है?
ये बोलकर मैंने उसे फिर से चोदना शुरू किया.

काफी देर तक मैंने उसकी चुदाई की. उसकी गांड और चूत दोनों अच्छी तरह से चोदी.

वो बोली- मैं इतनी नहीं चुदी हूं जितना तुम सोच रहे हो. मैंने अपनी बहन से झूठ बोला था कि मैं बहुत बार चुदी हूं. तुमने तो मेरी हालत खराब कर दी.

जब वो चलने लगी तो उसकी गांड ऊपर उठ रही थी.
हमने दो घंटे वहां पर आराम किया.
मैंने उसको दर्द की दवाई दी और फिर वहां से आ गए.

मगर मैंने वहां पर वर्षा की चुदाई की वीडियो बना ली थी ताकि वो आगे कभी मुझे ब्लैकमेल न करे.
मैंने अपनी और अनुष्का की चुदाई की वीडियो उसके फोन से डिलीट करवा दी थी.

इस तरह से मैं घर में अनुष्का की चुदाई करने लगा और बाहर वर्षा की चुदाई करता.
दोनों बहनें एक दूसरे को बताए बिना मुझसे चुदती रहीं.

Video: यूनिफॉर्म पहनी कॉलेजगर्ल ने चुदाई की बागडोर संभाली