मेरे बॉस ने मेरी बीवी को पटाकर चोदा-1

हॉट वाइफ XxX स्टोरी में पढ़ें कि मेरी शादी एक माल लड़की से हो गयी. पर मेरा लंड बहुत छोटा है तो मैं अपनी बीवी को कभी खुश नहीं कर पाया.

नमस्कार दोस्तो, मैं कोमल मिश्रा अपनी सेक्स कहानी में आप सभी का स्वागत करती हूं.

मेरी पिछली कहानी थी: कुंवारी रंडी की चुत गांड चुदाई का मजा

मेरे कई पाठक मुझे अपनी अपनी कहानियां भेज रहे हैं और मुझे जो कहानी सबसे ज्यादा पसंद आएगी, वही कहानी आप लोगों के समक्ष प्रस्तुत करूंगी ताकि मेरे सभी पाठको को सदैव अच्छी कहानी पढ़ने को मिले.

वास्तव में कहानी ऐसी होनी चाहिए, जिसे पढ़कर बदन का रोम रोम खड़ा हो जाए.

आज की कहानी मेरे एक ऐसे ही पाठक ने मुझे भेजी है, जो निश्चित रूप से आप सभी को पसंद आएगी.
सेक्स कहानी पूरी तरह से उनके द्वारा ही लिखी गई है और मेरे द्वारा किसी भी प्रकार का बदलाव नहीं किया गया है.

आइए यह Hot Wife XxX Story लेखक की जुबानी ही सुनते हैं.

दोस्तो, मेरा नाम सुधीर कुमार है.
मैं कहाँ से हूँ ये तो नहीं बता सकता लेकिन मैं एक बड़े शहर से हूँ.

मेरी उम्र वर्तमान में 33 साल है. मेरी शादी को आज 5 साल हो चुके हैं.
ये कहानी आज से 2 साल पहले की है.

मेरी पत्नी का नाम मेघना है और उसकी उम्र अभी 27 साल है.

सबसे पहले मैं आपको अपने बारे में कुछ बातें बताना चाहता हूं, जिससे आप लोग खुद अंदाजा लगा सकते हैं कि मैंने सही किया या गलत.
मैं दिखने में एक हट्टा कट्टा नौजवान मर्द हूं लेकिन मुझमें बहुत सी शारीरिक कमजोरियां हैं.

मेरा लिंग पूरा टाइट होने के बाद भी मात्र ढाई इंच से ज्यादा का नहीं होता इसके साथ ही वो काफी पतला भी है.
बिस्तर पर जब भी मैं अपनी पत्नी मेघना के साथ सेक्स करता हूं तो 2 से 3 मिनट से ज्यादा नहीं टिक पाता हूँ.

  प्यासी भाभी की चुदासी चूत चोदकर प्रेग्नेंट किया- 1

कई बार तो ऐसा होता है कि अपनी पत्नी को नंगी देखते ही या उसके साथ लिपटने मात्र से ही मेरा रस निकल जाता है.
शायद यही कारण रहा है कि शादी के पांच साल होने के बाद भी अभी तक हमारे कोई संतान नहीं हुई.

मेरी पत्नी मेघना दिखने में बेहद ही खूबसूरत है और उसके गोरे जिस्म का फिगर 34-28-36 का है.
जब मैं उसके साथ बाजार या कहीं शादी पार्टी में जाता हूं, तो लोग उसकी तरफ बड़ी गंदी निगाहों से देखते हैं.

वो हमेशा गहरे गले का ब्लाउज पहनती है जिससे सामने आंचल से उसके दूध की लाइन झलकती रहती है और पीछे उसकी गोरी चिकनी भरी हुई पीठ देख कर लोगों का मन डोल जाता है.

मेघना बहुत ही गर्म औरत है जो बिस्तर पर इतनी ज्यादा उत्तेजित हो जाती है कि अपने आपको कंट्रोल नहीं कर पाती और मुझे नौचने लगती है.

दोस्तो, मेरी किस्मत इतनी खराब है कि मैं अपनी पत्नी को कभी भी बिस्तर पर संतुष्ट नहीं कर पाया.
वो हमेशा ही तड़पती रहती है और मुझ पर गुस्सा करते हुए पलट कर सो जाती है.

जो एक जवान औरत को चाहिए, उसका वो सुख मैंने उसे कभी दिया ही नहीं.
मैं भी अपने आपको कोसता रहता हूं.

ऐसा नहीं है कि मैंने अपना इलाज नहीं करवाया.
हजारों रुपए मैंने अपने इलाज में खर्च कर दिए लेकिन कभी कोई फायदा नहीं हुआ.

जिस हिसाब से मेघना के जिस्म में चुदाई की गर्मी भरी हुई है और जिस प्रकार से उसका गदराया हुआ जिस्म है. उसके लिए उसे एक अच्छे खासे मोटे लंड की जरूरत है, जो कि मेरे पास नहीं है.

शहर में मैं अपनी पत्नी मेघना के साथ अकेला रहता हूं और मेरी बाकी की फैमिली के सदस्य गांव में रहते हैं.

मैं यहां शहर में एक कंपनी में काम करता हूं और यहां मेरे बहुत से दोस्त बने हैं.
लेकिन आज तक मैंने कभी किसी से भी अपनी इस कमजोरी का जिक्र नहीं किया.

मुझे हमेशा एक बार का डर लगा रहता था कि कहीं मेरी इस कमजोरी के कारण मेरी पत्नी किसी गलत आदमी के चक्कर में न पड़ जाए.
फिर कुछ ऐसा हुआ शादी के तीन सालों के बाद मुझे अपनी पत्नी मेघना पर कुछ कुछ शक सा होने लगा.

मुझे ऐसा लगता था कि मेघना मेरे पीछे किसी और मर्द के साथ चुदाई करवाने लगी है.

मेरा ऐसा शक इसलिए था क्योंकि मैं जब मेघना के साथ बिस्तर पर कुछ नहीं कर पाता था तो वो अब मुझ पर गुस्सा नहीं करती थी इसके साथ ही उसकी चूत का साइज पहले की अपेक्षा फैलता जा रहा था.

जिस हिसाब से मेरा लंड है, उस हिसाब से तो उसकी चूत का ये हाल बिल्कुल भी नहीं हो सकता था.

काफी दिनों तक ये बात मैंने अपने दिल में दबाए रखी थी और मैं कर भी क्या सकता था.

ऐसा नहीं था कि मैं उससे नाराज था क्योंकि मेरी ही वजह से उसे ऐसा करना पड़ रहा था.
बस अपनी पत्नी के बारे में ऐसा सोचकर खुद के अन्दर तकलीफ होती थी कि मेरी बीवी को कोई और चोद रहा है.

लेकिन इससे मेघना को खुशी मिल रही थी और वो मेरी नाकामी किसी को बता नहीं रही थी, इससे मैं खुश भी था.
मेघना अगर ऐसा कर रही थी तो मेरे हिसाब से कोई गलत नहीं कर रही थी क्योंकि मैं उसे किसी भी तरह से संतुष्ट नहीं कर पा रहा था.

जल्द ही मेरा शक और भी मजबूत हो गया क्योंकि एक दिन सुबह सुबह मैं अपनी नाइट ड्यूटी करके वापस आया था और बिस्तर पर लेटा हुआ था.

मेघना नहा कर कमरे में आई, उस वक्त वो केवल टावेल लपेटी हुई थी.
उसने मेरे सामने ही टावेल हटाई और चड्डी ब्रा पहनने लगी.

मैंने गौर किया की उसके बदन पर कई जगह काटने के निशान थे, जैसे कि उसके दूध पर पीठ पर और उसके चूतड़ों पर.
उस दिन मेरा शक बिल्कुल यकीन में बदल गया कि निश्चित ही मेघना रात में किसी से चुदी है.

लेकिन मुझे ये पता नहीं था कि वो शक्स कौन है, जो मेघना के साथ चुदाई करता है.
मैं सोचने लगा कि कैसे उसका पता करूं कि वो शक्स कौन है.

अगर मैं घर पर सीसीटीवी कैमरा लगवाता हूँ, तब भी ये बात मेघना को पता चल जाएगी और उसके अलावा मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था.

Video: बेटे ने सोती हुई माँ को चोद दिया

मैं ये बिल्कुल नहीं चाहता था कि मेघना को ये पता चले कि मुझे उस पर शक हो गया है.
मैं उसे अपनी चाहत पूरी करने देना चाहता था क्योंकि मैं तो किसी काम का था नहीं.

ऐसा तो कभी होता नहीं कि मेघना ही मुझे उसके बारे में बताती.
मुझे किसी व्यक्ति पर शक भी नहीं था क्योंकि मेरे सभी दोस्त ऐसे नहीं थे और मेरे घर पर ज्यादा कोई आता जाता भी नहीं था.

उस दिन के बाद मैं और भी ज्यादा परेशान रहने लगा क्योंकि मुझे ऐसा लग रहा था कि कहीं मेघना किसी गलत हाथों में न पड़ जाए, जिससे उसे बाद में दिक्कत हो.
मैंने चुपके से मेघना का मोबाइल फोन, उसका पर्स, अलमारी सभी जगह चैक किया लेकिन मुझे कोई भी सुराग नहीं मिला.

ऐसे ही एक सुबह जब मैं अपनी नाइट ड्यूटी करके घर वापस आया और बाथरूम गया तो वहां मुझे फर्श पर कुछ चिपचिपा सा महसूस हुआ.
गौर करने पर मालूम हुआ कि वो किसी का वीर्य था.

अच्छे से देखने पर मुझे टॉयलेट सीट के अन्दर फंसा हुआ एक कंडोम दिखाई दिया.
अब मैं पूरी तरह से समझ गया कि मेरा शक बिल्कुल सही है.

इसके बाद मैंने गौर किया कि अब मेघना काफी खुश रहने लगी थी. वो मुझसे काफी अच्छे से बात करती और मेरा बहुत ख्याल रखती.
ये सब देख मुझे भी अच्छा लगता था कि कम से कम मेघना खुश तो है, नहीं तो मेरे नाकारापन की वजह से वो हमेशा गुस्से में रहती थी और उसके अन्दर हमेशा चिड़चिड़ापन रहता था.

लेकिन दोस्तो अभी भी मेरे दिमाग में ये बात छाई हुई थी कि वो कौन आदमी है, जिससे मेघना चुदवा रही है.
काफी प्रयास के बाद भी मुझे कुछ पता नहीं चल रहा था.

फिर मेघना कुछ दिनों के लिए अपने मायके गई हुई थी.
उस दौरान भी मैंने घर का कोना कोना छान लिया कि शायद कुछ सुराग तो मिल सके लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं मिला.
मेरे दिमाग में एक विचार आया और मैंने वैसा करना ही सही समझा.

मैंने ऑनलाइन एक बहुत ही महंगा कैमरा आर्डर किया.
उस कैमरे की खासियत ये थी कि वो साइज में बेहद ही छोटा सा था और उस कैमरे को मैं इंटरनेट की मदद से अपने मोबाइल फोन से जोड़ सकता था और अपने घर की लाइव वीडियो अपने ही फोन पर देख सकता था.

उस कैमरे को मैंने अपने बेडरूम में ऐसी जगह पर लगा दिया कि पूरे बेडरूम की वीडियो दिखाई दे और उस कैमरे का किसी को भी पता न चले.

कुछ दिन बाद मेघना अपने मायके से वापस आ गई.
उस समय मेरी नाइट ड्यूटी चल रही थी.

मैं रोज ड्यूटी पर जाता और वहां से अपने मोबाइल फोन पर अपने बेडरूम का पूरा वीडियो लाइव देखता रहता था.

जितने भी दिन मैंने देखा, मेघना बिस्तर पर अकेली सोती हुई नजर आ रही थी.
न वो किसी से मिलती और न ही किसी से फोन पर बात करती.
मेरी समझ में कुछ भी नहीं आ रहा था.

क्या मैं गलत था और अगर मैं गलत था तो मेघना के जिस्म पर वो काटने के निशान और टॉयलेट सीट पर फंसा हुआ वो कंडोम ये सब क्या था.
मैंने कुछ दिन और इंतजार करने को सोचा.

फिर कुछ दिन बाद ही मुझे कंपनी के द्वारा कंपनी के काम से कुछ दिनों के लिए दूसरे शहर जाने के लिए बोला गया.
इस बीच मेघना घर पर ही अकेली रहने वाली थी.

ये मेरे लिए बहुत अच्छा मौका था अगर मेरा शक सही था तो इस दौरान मेघना जरूर उसे मिलने के लिए बुलाती.

मैं अपनी कंपनी के काम से 5 दिनों के लिए दूसरे शहर जाने के लिए निकल गया.
इससे पहले मैंने कैमरे को अपने फोन से कनेक्ट कर लिया ताकि वहां जाने के बाद भी मैं अपने घर के बारे में जान सकूं.

मुझे जहां जाना था, वहां मैं पहुंच गया और एक होटल में अपने लिए एक कमरा बुक कर लिया.
मुझे वहां 5 दिन रुकना था.

पहले दिन दिनभर मैंने अपना काम किया और शाम सात बजे होटल आ गया.
मैंने खाना आर्डर किया और जल्द ही खाना खाकर फुर्सत हो गया.

मैंने ठीक 9 बजे अपना मोबाइल फोन चालू किया और अपने घर के बेडरूम की लाइव वीडियो देखने लगा.
करीबी 10 बजे तक मुझे बेडरूम में किसी भी तरह की कोई हलचल नहीं नजर आई.

मेघना का भी कहीं कोई पता नहीं चल रहा था मुझे लगा कि वो शायद सामने वाले कमरे में टीवी देख रही होगी.
फिर अचानक से मेघना कमरे में आती दिखी.

उस वक्त उसने साड़ी पहनी हुई थी और कमरे में आकर उसने साड़ी उतार दी.
वो पूरी तरह से नंगी हो गई और बिल्कुल मॉर्डन वाली छोटी सी चड्डी नीचे पहन ली. इसके बाद वो अलमारी से एक जालीदार गाउन निकाल कर पहनने लगी.

उसने अपने मम्मों के ऊपर ब्रा नहीं पहनी थी. जिससे उसके बड़े बड़े दूध उस जालीदार गाउन से झलक रहे थे.

उसने अपने बाल संवारे, चेहरे पर कुछ क्रीम और लिपस्टिक लगाई और फिर कमरे से निकल गई.

मै मोबाइल पर टकटकी लगाए सब देखता रहा और मेरी उत्सुकता बढ़ती जा रही थी.
मुझे विश्वास होने लगा कि आज कुछ न कुछ जरूर देखने को मिलेगा.

रात करीब 11 बजे कमरे में कुछ हलचल दिखाई दी.
मैंने जो देखा उसे देखने के बाद मेरे तो होश ही उड़ गए और मुझे अपनी आंखों पर यकीन नहीं हो रहा था.

दोस्तो, मेरी कंपनी का मालिक मेरी पत्नी मेघना को अपनी गोद में उठाए हुए कमरे के अन्दर दाखिल हुआ.

मैं अपने मालिक के बारे में बता दूँ कि वो एक मद्रासी आदमी है. उसकी उम्र 53 साल है और उसकी लंबाई 6 फीट से भी ज्यादा है.

वो एक भारी भरकम शरीर वाला आदमी है, जिसका वजन कम से कम 90 किलो होगा.
उसका रंग बिल्कुल काला है.

मुझे विश्वास नहीं हो रहा था कि मेघना और मेरे बॉस के बीच ऐसा सब हो सकता है.
मेरा बॉस कभी कभी ही हमारे यहां खाने के लिए आया था या फिर जब हम किसी पार्टी में जाते थे, तब उसके साथ मेघना की मुलाकात होती थी.

शायद मेरे बॉस ने तभी मेघना को पटा लिया होगा क्योंकि वो बातें करने में बहुत माहिर है.
मेरा बॉस अकेला ही रहता है और उसका सारा परिवार चेन्नई में रहता है.

कंपनी में मुझे ऐसा कई बार सुनने को मिलता था कि बॉस कंपनी की कई लड़कियों के साथ चुदाई करता था.
वो बेहद ही चुदक्कड़ किस्म का आदमी था.

मेरे बॉस और मेघना की उम्र में लगभग आधे का फासला था. मेघना उससे उम्र में काफी छोटी थी.

मैं चुपचाप अपने मोबाइल में सब कुछ देखने लगा कि वो दोनों क्या क्या कर रहे हैं.

बॉस मेघना को अपनी गोद में उठा कर कमरे में लाया.
उसे बिस्तर के पास लाकर खड़ा कर दिया और उसे अपनी बांहों में भर लिया और उसके गालों को चूमते हुए उसके होंठों को चूमने लगा.

मेघना भी उसका साथ देते हुए उसके बालों को सहला रही थी.
मेरे बॉस का एक हाथ मेघना की बड़ी सी गांड के ऊपर चल रहा था और दूसरे हाथ से उसके चेहरे को पकड़ कर उसके होंठों को मलाई की तरह चूस रहा था.

काफी देर तक दोनों एक दूसरे को चूमते रहे.
फिर बॉस ने मेघना का गाउन उतार दिया.

अब मेघना केवल चड्डी पहने बॉस से लिपटी हुई थी.

मेघना ने भी एक एक करके बॉस के कपड़े उतार दिए और बॉस ने मेघना को अपने सीने से लगा लिया.
दोनों इस वक्त केवल चड्डी पहने हुए थे.

बॉस मेघना को अपने सीने से चिपकाए हुए था और उसकी पीठ को जोर जोर से सहला रहा था.
मेघना के दूध बहुत बुरी तरह से बॉस के सीने पर दबे जा रहे थे.

जल्द ही बॉस ने मेघना के दूध पर हमला कर दिया. उसने मेरी बीवी का एक निप्पल अपने मुँह में भर लिया और चूसने लगा. साथ ही वो मेघना के दूसरे दूध को जोर जोर से मसलने लगा.

इधर मेघना ने बॉस की चड्डी में अपना एक हाथ डाल दिया था और उसके लंड को चड्डी के अन्दर ही सहला रही थी.
ये देख कर मैं गनगना गया था कि मेरी बीवी ने अपनी चूत के लिए मेरे बॉस के लंड को पसंद कर लिया था.

मैं खुश भी था और दुखी भी था.
खुश इस वजह से था कि मेरी बीवी मेघना के लिए एक ऐसे लंड की जुगाड़ हो गई थी, जिससे मुझे कोई नुकसान नहीं होने वाला था और दुखी इस वजह से था कि मुझे बनाने वाले ने मर्द नहीं बनाया था.

आपको मेरी ये दास्तान कैसी लग रही है आप मुझे अपने मेल और कमेंट्स से बताएं.
हॉट वाइफ XxX स्टोरी के अगले हिस्से में मेरी बीवी ने मेरे बॉस से किस तरह से चुदाई का मजा लिया और क्या वो उसके बच्चे की माँ भी बनी.
[email protected]

हॉट वाइफ XxX स्टोरी का अगला भाग: माय वाइफ एंड बॉस सेक्स कहानी

Video: भोजपुरी अभिनेत्री अक्षरा सिंह का सेक्स क्लिप