गर्लफ्रेंड की भाभी की चुत चोदी-1

होटल में चुदाई की कहानी मेरी सेटिंग की भाभी की चूत की है. अपने जन्मदिन पर वह खुद अपनी भाभी को मेरे होटल के कमरे में सेक्स के लिए छोड़ कर गयी.

दोस्तो, मेरा नाम रवीश कुमार है. मैं रांची झारखंड से हूं, मेरी उम्र 27 साल है. मैं देखने में सामान्य हूं, लम्बाई 5 फुट 6 इंच की है और बॉडी भी मस्त है.

मेरा लंड 6 इंच लम्बा और 3 इंच मोटा है. लड़कियों को एक बार में पसंद आने वाला लंड है.

दोस्तो, आप लोगों ने मेरी पिछली सेक्स कहानी
दोस्त की बहन निकली लंड की शौकीन
में पढ़ा था कि कैसे मैंने अपनी दोस्त की बहन प्राची को पटा कर उसकी चुदाई की थी. वो मेरी गर्लफ्रेंड नहीं थी, बस चुदाई की सेटिंग थी.

Bhabhi Ki Hotel Me Chudai Kahani में आगे:

मैंने प्राची से दोस्ती बढ़ा ली थी, जिस वजह से प्राची ने मुझे बहुत से राज बताए.
उसने अपने बारे में और अपनी बहनों के बारे में काफी कुछ बातें बताई थीं.

प्राची बहुत बड़ी चुदक्कड़ और लालची लौंडिया थी. वो पैसों और गिफ्ट्स के लिए बहुत लोगों के साथ चुद चुकी थी.

प्राची को मैं चार महीने से चोद रहा था, बदले में उसे गिफ्ट्स देता रहता था.
मैंने प्राची का भरोसा जीत लिया था.
मैं हमेशा उसकी सहमति और सहूलियत से चोदता था.

जब भी प्राची का मन चुदने का होता, तब हम दोनों चुदाई कर लेते थे.

प्राची का जन्मदिन आने वाला था, उसे अपने दोस्तों को पार्टी देनी थी.

एक दिन मैं प्राची को चोद रहा था तो उसने मुझे अपने जन्मदिन के बारे में बताया.
उसने मुझसे गिफ्ट मांगी तो मैंने उसे शॉपिंग कराने का वादा कर दिया.

थोड़ी देर सोचने के बाद प्राची ने मुझसे अपने जन्मदिन की पार्टी की व्यस्था करने को बोला.
मैं उसके लिए भी तैयार हो गया.

  जवान लौंडे से चूत चुदवाकर तृप्त हो गयी

प्राची खुश हो गई और हम दोनों चुदाई में व्यस्त हो गए.
चुदाई खत्म होने के बाद प्राची ने मुझे किस करते हुए धन्यवाद कहा और बदले में मुझे एक और चूत दिलाने का वादा किया.

मैंने उससे पूछा- तू किसकी चूत दिलवाने वाली है!
उसने बर्थडे पार्टी के दिन मिलवाने का बोला और गांड हिलाती हुई चली गई.

प्राची के बर्थडे के लिए मैंने एक होटल में हॉल बुक कर दिया.
उसमें मैंने खाने की व्यस्था कर दी थी और डांस में करने के लिए साउंड सिस्टम भी लगवा दिया था.

प्राची ने मुझे उसी होटल में एक रूम बुक करने को कहा, जहां वो मुझे एक नई चूत दिलवाने वाली थी.

प्राची ने हम दोनों को ही नहीं बताया था कि वो किससे मिलवाने वाली है. वो दोनों को सरप्राइज़ देने वाली थी.

बर्थडे के दो दिन पहले प्राची ने मुझसे कुछ शॉपिंग कराई, जिसमें कुछ सामान उसने नई चूत के लिए खरीदा था.

पार्टी के दिन मैं तैयार होकर सुबह ग्यारह बजे होटल पहुंच गया था.
मैंने प्राची को कॉल किया तो उसने बताया कि अभी वो ब्यूटी पार्लर में है.

फिर तीस मिनट में आने का बोल कर उसने कॉल काट दिया.

मैं बर्थडे पार्टी की व्यस्था के बारे में होटल वालों से बातचीत करने लगा.
थोड़ी देर के बाद मैं अपने रूम में आकर प्राची का इंतजार करने लगा.

बारह बजे प्राची ने होटल के बाहर आकर मुझे कॉल किया और मुझे दरवाज़ा खोल कर रखने को बोला.

मैं दरवाज़ा खोल कर उन दोनों का इंतजार करने लगा.
मुझसे रहा नहीं गया तो मैं कमरे के दरवाजे खोल कर बैठ गया.
दरवाजा खुले होने से सामने आने जाने वाला हर व्यक्ति साफ़ दिखता था.

कुछ ही मिनट बाद प्राची आती हुई दिखी. उसके साथ एक और लड़की काला चश्मा लगाए हुए और अपने मुँह पर स्कार्फ लपेटे हुए मेरे रूम की तरफ़ बढ़ रही थी.

लड़की को मैं पहचान नहीं पाया. मगर वो इतनी कांटा माल थी कि प्राची उसके सामने फीकी पड़ गई थी.

प्राची और उसकी सहेली मेरे रूम में आ गईं और मैंने दरवाज़ा बंद कर लिया.

रूम में आकर प्राची की सहेली ने अपना स्कार्फ और काला चश्मा हटाया तो मुझे वो देखी देखी सी लगी.

मैं उसे ध्यान से देखने लगा.
अचानक मेरे मुँह से मीनाक्षी भाभी निकल गया.

मेरे मुँह से मीनाक्षी भाभी सुन कर प्राची हंसने लगी और मीनाक्षी भाभी भी मुस्कुरा दी.

दोस्तो, अब मैं आपको मीनाक्षी भाभी के बारे में बता देता हूं.
मीनाक्षी प्राची की मौसी की बड़े बेटे की बीवी थी.
उसकी शादी को पांच साल हो चुके थे.

मीनाक्षी की एक तीन साल की बेटी भी है.

भाभी देखने में किसी हीरोइन या मॉडल से कम नहीं थी. उसकी लम्बाई 5 फुट 10 इंच की थी और फिगर 36-28-38 का था.
मीनाक्षी की पर्सनैलिटी को देख कर उसकी नौकरी सीबीआई में लग गई थी लेकिन उसके पति ने शादी के बाद उसकी नौकरी छुड़वा दी थी.

भाभी को सब मिनी बुलाते हैं तो अब मैं भी मिनी नाम से सेक्स कहानी को आगे बढ़ा रहा हूँ.

मिनी की जब शादी हुई थी, तो उसके पति का बड़ा बिजनेस था और पैसे की कोई कमी नहीं थी.
लेकिन कुछ दिन के बाद बिजनेस में उसे नुकसान होने लगा था.

नुकसान होने के बाद बिजनेस बंद हो गया, जिसके कारण मिनी का पति दिमागी रूप से थोड़े परेशान हो गया था.

मिनी दिन भर घर में उदास रहती थी, उसका पति मिनी पर बहुत शक भी करता था.

Video: बॉलीवुड हिरोइन की असली नंगी क्लिप

मैं पहले भी मिनी से मिल चुका था.
एक बार पार्टी में हम दोनों ने पूरी रात एक दूसरे से बात की थी. उसके साथ मैंने बहुत फ्लर्ट किया था.

मैं तो उसी रात मिनी को अपने लंड के नीचे ले आता लेकिन हम दोनों पहली बार होने के कारण कुछ झिझक रहे थे इसलिए बात बढ़ नहीं पाई थी.

मैंने प्राची को गले लगा कर जन्मदिन की शुभकामनाएं दीं, उसने मुझे किस करके धन्यवाद कहा.

मिनी को हाथ मिला कर मैंने हैलो बोला, उसने भी हैलो बोला.

मैंने मिनी को पहले साड़ी और सलवार सूट में देखा था. आज उसे गुलाबी रंग के हॉट गाउन में देख कर मैं पागल हो रहा था.
उसे देख कर लग ही नहीं रहा था कि ये शादीशुदा होगी या इसकी बेटी होगी.

हम तीनों ने पांच मिनट बात की.
प्राची जाने के हड़बड़ी में लग रही थी.
जाते हुए प्राची ने मिनी के होंठ पर किस किया और अच्छे से एन्जॉय करने को बोली.

प्राची ने मुझे किस करते हुए मिनी के साथ अच्छे से सेक्स करने की बात कही.

मिनी देर रात तक रुकने की स्थिति में नहीं थी.
उसे रात होने से पहले अपने घर वापस जाना था क्योंकि उसका पति बहुत शक्की किस्म का आदमी था.

प्राची रूम से चली गई क्योंकि उसके दोस्त पार्टी में उसका इंतजार कर रहे हैं.

मुझे मिनी ने बताया कि नीचे फ्लोर पर एक और रूम बुक है जहां मिनी ने कपड़े बदले हैं.

मैं सोचने लगा कि काहे के दोस्त … साली रांड है. कुतिया ने कोई पैसे वाले लंड यात्र बना रखे होंगे.
हालांकि मुझे आज मिनी को चोदने का मौका मिल गया था, तो मैंने प्राची के बारे में सोचना छोड़ दिया.

अब रूम में मैं सिर्फ और मिनी थे. मैंने मिनी की कमर पर हाथ रखा, तो उसने मुझे रोक दिया.

मिनी बोली- थोड़े देर में करते हैं, हमारे पास अभी काफी समय है.

मैंने भी उसकी बात को समझा और मिनी से बात करने लगा.

मैंने उससे बियर के लिए पूछा तो उसने हां कर दी.
मैं फ्रिज से दो बियर कैन निकाल लाया और हम दोनों बियर पीते हुए बात करने लगे.

हम दोनों अपने कॉलेज लाइफ के बारे में एक दूसरे को बताने लगे.

मिनी ने बताया कि उसने दो साल से सेक्स नहीं किया है. पिछले छः महीने से प्राची के साथ वो लेस्बियन सेक्स कर रही थी.
उसने खुद ही प्राची को किसी भरोसेमंद दोस्त से मिलवाने को कहा था.

मिनी की बात सुनकर मैं गर्म होने लगा और मैंने एक सिगरेट सुलगा ली. मिनी ने भी मेरे साथ सिगरेट शेयर की.

फिर मैंने मिनी को अपने और प्राची के बारे में सब बता दिया.
उसने कहा कि हां मुझे प्राची ने तुम्हारे साथ सेक्स की सारी बात बता दी थी.

दो बज गए थे. अभी तक मैंने मिनी को छुआ तक नहीं था.
बेड पर बैठ कर हम दोनों ऐसे बात करने में लगे थे जैसे हम दोनों बहुत अच्छे दोस्त हों और बहुत सालों से एक दूसरे को जानते हों.

मैं बेड पर लेट गया और चादर को ओढ़ लिया, मैंने मिनी को भी बगल में लेटने का बोला.

मिनी बोली- गाउन पहन कर सोने से गाउन ख़राब हो जाएगा.
मैंने भी मजाक करते हुऐ गाउन खोल कर सोने का बोल दिया.

मगर मिनी ने गाउन नहीं उतारा; वो गाउन पहनी हुई ही मेरे बगल में लेट गई.

मैंने उसके गाल पर हाथ फेरा तो वो बोली- क्या तुमसे बर्दाश्त नहीं हो रहा है?
मैंने हां कहा और मिनी से सट कर लेट गया और उसे भी चादर ओढ़ा दी.

थोड़ी देर के बाद मैंने मिनी को अपने कंधे पर सर रखने को बोला, वो तुरंत मेरे कंधे पर सर रख कर लेट गई.

मुझे समझ में आने लगा कि मिनी बहुत अच्छी लड़की है, उसे प्यार चाहिए. वो एक चूतिया किस्म के आदमी से शादी करके फंस चुकी है. उसकी रंडी ननद उसे मुझसे चुदने के लिए छोड़ गई है.

तीन बज चुके थे, हम लोग अभी भी बातचीत करने में लगे थे.

तभी हमारा हाल चाल पूछने के लिए प्राची आई.

उसने कमरे की हालत देख कर समझ लिया कि अभी कुछ हुआ नहीं है.
तो उसने हम दोनों से पूछा कि कुछ दिक्कत है क्या?

मिनी ने ही उसे समझाया कि कोई दिक्कत नहीं है, बस हम लोग एक दूसरे को समझ रहे हैं.
प्राची चली गई.

उसके जाने के बाद मैंने मिनी को बोला कि अब शुरू करते हैं.
मिनी ने मेरे माथे पर किस करके पूछा कि क्या तुम्हें ऐसे अच्छा नहीं लग रहा है … सेक्स करना जरूरी है?

मैंने उसकी भावनाओं को समझते हुए बोल दिया कि मुझे बहुत अच्छा लग रहा है, सेक्स करना मेरे लिए जरूरी नहीं है.

मिनी ने ये सुनते ही खुशी से मेरे दोनों आंखों और गालों पर किस किया और मुझे टाइटली जकड़ कर लेट गई.

दोस्तो, मैंने आज तक अनेकों रंडियां चोदी थीं. मुझे कभी सेक्स करते हुए अपनेपन की फीलिंग आई ही नहीं थी.
उस समय मुझे सिर्फ चुत चोदने से मतलब होता था.

पहली बार आज मेरे दिल को सुकून मिल रहा था. मेरे दिमाग़ में झनझनाहट हो रही थी.

हम दोनों लिपट कर प्यार रहे थे. हम दोनों की सांसें आपस में टकरा रही थीं.
मेरा लंड भी खड़ा हो गया था. मिनी के पैरों को लंड अहसास दिला रहा था.

मिनी ने मेरी हालत समझते हुए मुझसे पूछा कि क्या तुम्हारा सेक्स करने का बहुत मन है?
मैंने हामी भरते हुए मिनी से भी पूछ लिया- यदि तुमको सेक्स करने का मन है तभी मैं आगे बढूँगा … अन्यथा मुझे सेक्स करने की जल्दी नहीं है.

मिनी ने नज़रें झुका कर बहुत ही मासूमियत से कहा- वैसे तो मुझे दो साल हो गए सेक्स किए हुए. मेरा सेक्स करने का मन तो इतना ज्यादा है कि बिना सोचे समझे किसी अंजान मर्द के साथ मैं लेटने को आ गई हूं.

मैंने ये सुनते ही अपने होंठ मिनी के होंठों से लगा दिए.
मैं बहुत ही प्यार से मिनी के होंठों को चूस रहा था.

अपनी हवस को अलग करके मैं प्यार से मिनी के पूरे चेहरे को किस करने लगा.
मिनी को मैं नाज़ुक कली समझ कर प्यार कर रहा था.

दोस्तो सेक्स से ज्यादा मजा सेक्स से पहले प्यार करने में आता है.

आपको मिनी भाभी की होटल में चुदाई की कहानी को अगले भाग में लिखूंगा. आप मुझे मेल करना न भूलें.
[email protected]

होटल में चुदाई की कहानी का अगला भाग: प्यासी भाभी की हॉट चुदाई