गर्लफ्रेंड की भाभी की चुत चोदी-2

एक प्यासी भाभी की हॉट चुदाई की मैंने होटल के कमरे में. उसकी ननद मेरे लंड की रखैल थी. वो खुद अपनी भाभी की चुत में मेरा लंड डलवाने लायी.

दोस्तो, मैं रवीश कुमार आपको अपनी सेक्स कहानी के पहले भाग
गर्लफ्रेंड अपनी भाभी को मेरे पास सेक्स के लिए लायी
में बता रहा था कि प्राची नाम की चुदक्कड़ लड़की को मैं बहुत चोदता था. उसने अपनी बर्थडे पर मेरे लंड से अपनी भाभी मिनी को चुदने के लिए भेज दिया था.
मैं मिनी भाभी के साथ कमरे में चूमाचाटी कर रहा था.

अब आगे Bhabhi Ki Hot Chudai Story:

बीस मिनट की चूमाचाटी करने के बाद मिनी ने अपने गाउन को खोल दिया.
अब वो सिर्फ ब्रा और पैंटी में थी.

मिनी का ये रूप किसी पोर्न ऐक्ट्रेस से कम नहीं था.

मैं मिनी को बेड पर लिटा कर उसके पूरे बदन को किस करने लगा.
दस मिनट तक मैं मिनी को गर्दन से पेट तक चूमता रहा.

मिनी मजे लेकर मेरे सर पर और पीठ पर हाथ फेर रही थी.

मैं मिनी की चूत को पैंटी के ऊपर से चूमने लगा.
मिनी चूत उठा उठा कर मेरे मुँह पर रगड़ने लगी.

मैंने मिनी की गांड को उठाया और उसकी पैंटी निकालने लगा.
मिनी ने मुझसे भी कपड़े उतारने को कहा.

मैंने अपनी चड्डी छोड़ कर सब खोल दिया.

मैं मिनी के पास गया तो उसने खुद से अपनी गांड को उठा दिया, मैंने तुरंत उसकी पैंटी को नीचे कर दिया.

मिनी की चुत एकदम चिकनी और सफाचट थी.

उसने बताया कि उसने आज सुबह ही अपनी चुत को साफ किया था.

मिनी की चुत किसी कुंवारी लड़की की जैसी थी. चुत की दोनों पंखुड़ी आपस में चिपकी हुई थीं.

मैंने उसकी चूत को चाटना शुरू किया, वो एक पल के लिए तो सिहर उठी. मैंने अपने होंठों और जीभ से उसकी चूत को चाटना और चूसना शुरू कर दिया.
उसकी मादक आहें निकलने लगीं और वो चुत को मेरे मुँह में दबाने लगी.

  मैं अकेली हूँ अंकल, मुझे चोदो

दस मिनट तक चूत को चूसने के बाद जब उसकी चूत गीली हो गई तो मैं उसकी चूत में एक उंगली डालने लगा.

मिनी को उंगली से ही दर्द होने लगा.
वो अपनी कमर को पीछे करती हुई मुझसे उंगली डालने से मना करने लगी और मुझे अपने ऊपर खींचने लगी.

मुझे अपने पास खींच कर वो मेरे होंठों को किस करने लगी. मैं उसके ऊपर चढ़कर उसकी चूत में लंड को रगड़ रहा था.

अब मैं मिनी की ब्रा को खोल कर उसके चूचों को हल्के हल्के दबाते हुए चूसने लगा.

मिनी अब तक काफी गर्म हो चुकी थी. उसने मेरी चड्डी में हाथ डाल दिया और मेरे चूतड़ों को दबाने लगी. उसने मेरे चड्डी को नीचे कर लंड को आज़ाद कर दिया.

हम दोनों अब पूरी नंगे एक दूसरे से लिपटे हुए थे.
मिनी की चूचियों पर बैठ कर मैं अपना लंड उसके मुँह में देने लगा.

उसने मुझे रोकते हुए कहा- मैंने आज तक मुँह में लंड नहीं लिया है.

इस तरह उसने मुँह में लंड लेने से इंकार कर दिया.
मैंने उसे समझाया तो वो हल्के से मेरे लंड को चूमने लगी.

मिनी लंड को होंठ से छूती और अकबकाने लगती.
उसकी आंखों में पानी आने लगा था.

मैंने उसे लंड चूसने से रोक दिया.

तो मिनी ने मुझसे पूछा- चुसवाने में मजा आता है क्या?
मैंने उसे बताया- मुझे चुत चोदने से ज्यादा मजा लंड चुसवाने में आता है.

मिनी भी मेरी बात पर सहमति दिखाते हुए बताने लगी- हां ये तो है … मुझे भी चूत चुसवाने में बहुत मजा आता है. लेस्बियन सेक्स में मैं प्राची से अपनी चुत रगड़ कर चुसवाती थी.

फिर मिनी ने मेरी खुशी के लिए एक बार लंड को चूसने का मन बना लिया.
उसने मेरे लंड को मुँह में ले लिया और चूसने लगी.

लंड चूसते हुए एक मिनट भी नहीं हुआ था, मिनी अकबकाती हुई बाथरूम की ओर गई और थूकने लगी.
उसे उल्टी आने लगी थी.

मैं उसके पीछे बाथरूम गया, उसे संभालते हुए मैंने उसे कुल्ला कराया और वापस रूम में ले आया.

मिनी ने पांच मिनट आराम करने के बाद मुझसे कंडोम का पूछा तो मैंने उसे कंडोम दे दिया.
उसने कंडोम को लंड पर लगाया और लंड चूसने लगी.

इस बार उसने लंड को पांच मिनट तक चूसा फिर उसने कंडोम हटा दिया और फ़िर से लंड को दो मिनट तक चूसा.

मिनी ने मुस्कुराते हुए मुझसे पूछा- मजा आया या और चूस दूं?

Video: बॉयफ्रेंड के लौड़े पर कूद कूद कर चुदाई की

मैंने उसे अपने पास खींच कर किस किया और बोला कि बहुत मजा आया.

अब मैं मिनी के ऊपर चढ़कर उसकी चुत पर अपना लंड रगड़ रहा था.

मैंने मिनी को बोला- दो साल के बाद सेक्स करने वाली हो, थोड़ा दर्द होगा.
मिनी बोली- मैं दर्द सहने को तैयार हूँ. बस तुम थोड़ा प्यार से करना.

मैंने उसकी चूत के मुँह पर लंड को रखा और धक्का लगाया तो लंड फिसल गया.
फिर मैंने मिनी की चूत को थोड़ा चूस कर गीला कर दिया.

मिनी ने अपने पर्स से वैसलीन की डिब्बी निकाली और काफी वैसलीन मेरे लंड पर लगा दी और कुछ अपनी चुत पर.

मैं दोबारा मिनी के ऊपर चढ़ गया और चुत के पास लंड को सटा दिया.
इस बार मिनी ने चुत के मुँह पर लंड को सैट किया और उसे धक्का लगाने का इशारा किया.

उसने हां में सर हिला दिया.

मैंने धक्का लगाया तो लंड का सुपारा चूत में घुस गया.

मिनी दर्द से छटपटाने लगी, मुझे सील तोड़ने जैसा मजा मिल रहा था.
मैं मिनी को किस करने लगा ताकि उसे थोड़ा आराम मिल जाए.

मैं सुपारे को धीरे धीरे अन्दर बाहर कर रहा था और मिनी की चुत में जगह बना रहा था.

पांच मिनट की चुदाई के बाद मुझे अहसास हुआ कि लंड पूरा अन्दर घुस चुका है.
मिनी की चुत बहुत टाइट थी जिसके कारण मुझे भी थोड़ा दर्द हो रहा था.

और मिनी अपनी आंखें बन्द करके और मुझे किस करती हुई चुद रही थी.

दस मिनट की चुदाई में मिनी की चूत ने झड़ना शुरू कर दिया. इससे चूत में चिकनाहट आ गई.

अब मैंने अपने धक्के तेज कर दिए.
मिनी की आंखों से आंसू गिर रहे थे … मगर वो लंड को लिए जा रही थी.

पंद्रह मिनट की भाभी की हॉट चुदाई के बाद मैं मिनी की चूत में ही झड़ गया.
मैंने मिनी के ऊपर लेट कर उसके माथे पर किस किया, उसकी आंखों को किस किया और उसके आंसू को चाट गया.

मैं मिनी के बगल में लेट गया.
वो उठ कर बाथरूम चली गई.

पांच मिनट के बाद अपनी चुत को साफ करके और पेशाब करके वो वापस आ गई.

बेड पर आने के बाद मिनी मेरे बगल में लेट गई और मेरे हाथ को अपनी चुत पर रख दिया.

मिनी बोली- मेरी चुत में थोड़ी जलन और दर्द हो रहा है, तुम थोड़ा सहला दो.

मैं समझ गया कि चुत की सिकाई करनी पड़ेगी.

तो मैं बाथरूम में गया, गीजर चालू करके गर्म पानी को एक जग में ले आया.
मिनी पैर फैला कर बेड पर सोई हुई थी.

मैंने अपना रूमाल निकाला और उसकी चूत को गर्म पानी से सेंक दिया.
मिनी को इससे आराम मिल रहा था.

मैंने दस मिनट तक उसकी चुत की गर्म पानी से सिकाई की.

अब शाम के सात बज गए थे, प्राची अपनी पार्टी में व्यस्त थी.

हम लोग ने एक बार और सेक्स करने का मूड बनाया.
मैं मिनी के होंठ को चूसने लगा और मम्मों को दबाने, मसलने लगा.

किस करते करते मैं मिनी की चुत में उंगली करने लगा. मिनी प्यार में पागल प्रेमिका की तरह आंखें बन्द करके किस करने में लगी हुई थी.

मैंने मिनी को इस बार कुतिया के पोज में सेक्स करने को बोला.

मिनी ने आज के लिए मना कर दिया और बोली- उस पोज में आज सम्भव नहीं है. तुम पहले जैसे ही मेरे ऊपर आकर मेरी चुत चोद दो.

मैं मिनी के ऊपर आ गया और उसकी चूत में अपना लंड डाल दिया.
उसे किस करते हुए मैं चोदने लगा.

मिनी भी अब मूड में आ गई थी. वो अपनी गांड उठा उठा कर मेरा साथ देने लगी थी.

इस बार मैंने उसे बीस मिनट तक चोदा.
मैं फ़िर से मिनी की चुत में झड़ गया.

हम दोनों नंगे चादर ओढ़ कर लेते हुए थे और इधर उधर की बात कर रहे थे.

आठ बज चुके थे, पार्टी अब खत्म हो गई थी.

प्राची हम लोगों के पास रूम में आई.
मैंने रूम का दरवाजा खोला.

मैं चड्डी में था. मिनी चादर ओढ़े नंगी लेटी हुई थी.

प्राची ने रूम में आते ही मेरे चड्डी में हाथ डाल दिया और मिनी के ऊपर से चादर हटा दिया.

प्राची ने मिनी की चुत में अपना उंगली डाल दी, इससे मिनी चिहुंक गई.

प्राची ने उंगली निकाल कर चुत का पानी चाट लिया.
पानी चाट कर उसने बता दिया कि बिना कंडोम की चुदायी हुई है.

प्राची ने मुझसे सेक्स करने का पूछा तो मैंने मना कर दिया कि आज बहुत कर लिया है.
मैंने अगली बार उसकी चुदाई करने का कहा.

प्राची थोड़ी उदास हो गई और ताने मारने लगी कि मिनी भाभी के सामने तुम मुझे कहां पूछने वाले हो.

मिनी ने बात को संभालते हुए मुझसे ज़िद करते हुए कहा- प्राची के साथ सेक्स कर लो, मैं भी तुम दोनों की चुदाई देखना चाहती हूँ.

प्राची ने भी यही ज़िद पकड़ ली कि उसके सामने मिनी की चुदाई करूं.

मैंने हार मान ली और तैयार हो गया.

प्राची ने भी अपने कपड़े खोल दिए.

अब रूम में हम तीनों नंगे थे.

मैंने प्राची को लंड चूसने के लिए बोला, तो उसकी जगह मिनी मेरे लंड को चूसने लगी.

प्राची ने मिनी की चूत को चाटना शुरू कर दिया. सीन देख कर मेरा लंड खड़ा हो गया.

मिनी के ऊपर चढ़कर प्राची ने अपनी गांड को उठा दिया जिससे प्राची डॉगी स्टाइल में हो गई.
मैंने पीछे से उसकी चूत में लंड पेल दिया.

प्राची और मिनी एक दूसरे को किस कर रही थीं. मैं प्राची को बीस मिनट तक पेलता रहा.

अब हमें घर भी जाना था तो प्राची ने मुझे मिनी की चुदाई करने को कहा.

मैंने प्राची की चूत से लंड निकाल कर मिनी की चूत में पेल दिया. मिनी को दस मिनट चोदने के बाद मैं मिनी की चूत में झड़ गया.

हम तीनों ने अपने कपड़े पहन लिए और जाने के लिए रेडी हो गए.

हम सब रूम से निकल गए और अपने अपने घर चले गए.

प्राची ने मेरे लिए मिनी को लाना शुरू कर दिया था. कुछ बहाने से मिनी को घर से निकाल कर मेरे पास ले आती. फ़िर हम लोग चुदाई करते थे.

मिनी से मिलने के बाद मैंने प्राची को चोदना बंद कर दिया था.

लगभग 6 महीने तक मैं मिनी को पेलता रहा. उसके बाद किसी कारण से प्राची के परिवार और मिनी के परिवार में बातचीत बन्द हो गई. इस वजह से मेरा और मिनी का मिलना बंद हो गया.

उसके बाद प्राची ने अपनी बहन ख़ुशी को मेरे लंड के नीचे पहुंचा दिया. वो सेक्स कहानी अगली बार लिखूंगा.

आपको मेरी देसी भाभी की हॉट चुदाई कैसी लगी, प्लीज़ मेल जरूर करें.
[email protected]