मेरी बीवी ने चुद कर विदेशी डील की

मेरी बीवी की हॉट देसी इंडियन चुत चुदाई मैंने अपनी आँखों के सामने देखी होटल के कमरे में. उसके बॉस ने उसे एक डील फाइनल करने के लिए चुदवाया.

दोस्तो, कैसे हो सब? आपने मेरी पहले वाली कहानी तो पढ़ी होगी. जिसमें मैंने बताया था कि कैसे मेरी बीवी के बॉस ने शराब पिलाकर उसकी चुदाई एक फार्म हाउस पर ले जाकर की.

अगर आपने वह कहानी नहीं पढ़ी है तो आप मेरी पिछली कहानी को एक बार पढ़ लें.
मेरी बीवी की भोसड़ी और गांड

आज मैं उसी कहानी के आगे की घटना की बताने जा रहा हूं. मैं माफी चाहता हूं कि समय न मिलने की वजह से मैं अपनी कहानी जल्दी नहीं पेश कर सका.

ज्यादा समय बर्बाद न करते हुए अब सीधे हॉट देसी इंडियन चुत चुदाई कहानी की ओर चलते हैं.

मेरी बीवी को तो आप जानते ही हो. उसका फिगर बताने की तो जरूरत ही नहीं.

आपने देखा कि इससे पहले वाली स्टोरी में बीवी की चुदाई उसके बॉस से हो चुकी थी. मैंने भी अपनी बीवी की लाइव चुदाई देखी थी.

उसके बाद सब कुछ नॉर्मल हो गया. मेरी पैसों की दिक्कत भी थोड़ी कम हो गई थी. सब कुछ ठीक-ठाक चल रहा था.

एक दिन मेरी बीवी ने मुझे बताया कि उसके बॉस की एक डील फाइनल होने वाली है और विदेश से कुछ लोग मीटिंग के लिए आने वाले हैं.

वह कहने लगी- अगर यह डील हो गई तो तनख्वाह भी दोगुनी हो जाएगी. बॉस ने मुझे बोला है कि मुझे उनका थोड़ा ध्यान रखना है जिससे कि मेरी डील फाइनल हो जाए.

आगे बताते हुए अंकिता कहने लगी- मैंने सर को बोल दिया कि सर जैसा आप कहो, मैं वैसा ही करने के लिए तैयार हूं.

मीटिंग रविवार को थी तो शुक्रवार के दिन बॉस का फोन मेरी बीवी के फोन पर आया.
मेरी बीवी धीरे-धीरे बात कर रही थी और उसकी खुसर फुसर मुझे सुनाई नहीं दी.
मुझे थोड़ा शक हो गया.

  जैसलमेर के रेत के टीले- 1

फिर जब वह किचन में खाना बनाने गई तो मैंने उसके मोबाइल की रिकॉर्डिंग में सुना कि मीटिंग रॉयल रिसोर्ट में थी.
मैंने बॉस को कहते सुना कि संडे को मीटिंग रॉयल में है और तुम्हें उनका पूरा ख्याल रखना है.

वो बोला- डील फाइनल करने के लिए उन्हें खुश करना है और इसके लिए तुम्हें अलग से रूपये भी मिलेंगे. यह बात तुम अपने पति को मत बताना. संडे को शाम 7:00 बजे रॉयल रिसोर्ट पहुंच जाना.

इतनी बात सुनकर अंकिता ने तुरंत फोन रख दिया था.

मुझे पूरा यकीन था कि कुछ गड़बड़ है.

इससे पहले भी मैं बीवी की चुदाई देख चुका था इसलिए मेरा मन अब मान नहीं रहा था.
जब हम खाना खाने लगे तो मैंने पूछा- तुम्हारी बात हो गयी क्या तुम्हारे बॉस से?

वो बोली- हां, सारी बात हो गयी.
मैं इंतजार करने लगा कि वो कुछ बतायेगी लेकिन उसने आगे कुछ नहीं बताया.

बात मुझसे छुपाई तो मुझे फिर गहरा शक हो गया.
मुझे मीटिंग का टाइम तो पता लग ही चुका था. मैंने अभी बीवी को कुछ नहीं बताया.

फिर संडे वाले दिन मैं भी बीवी की सी.आई.डी. करने के लिए रॉयल होटल की तरफ निकल पड़ा.

मेरी बीवी 7:00 बजे से पहले ही जा चुकी थी और मैं लगभग 15 मिनट बाद ही उस होटल में पहुंच गया जहां उस होटल में मीटिंग होनी थी.

मैंने होटल के मैनेजर से पूछा कि रूम मिल जाएगा कि नहीं?

मैंने 3-4 घंटे के लिए रूम का चार्ज पूछा तो उसने 2000 रूपये बताया.
फिर मैं ऐंट्री भरने लगा तो मैंने मेरी बीवी के रूम को भी देख लिया जो 305 नम्बर था.

मैंने मैनेजर से 306 नम्बर रूम के लिए बोला तो मैनेजर ने 306 के रूम की चाबी दे दी.
मैं लिफ्ट से 306 के लिए चल पड़ा. मैं पहुंच गया और कमरा खोल कर अंदर गया.

अंदर जाकर मैंने 305 के अंदर देखने के लिए जगह ढूंढनी शुरू की. मुझे कोई जगह नहीं मिली. काफी मशक्कत के बाद मैंने एक रास्ता खोज निकाला. उन दोनों कमरों की दीवार के बीच कार्डबोर्ड लगा हुआ था.

मैंने अलमारी खोलकर देखी और जो अंदर की दीवार में थी. उसमें पीओपी का स्टेचर बना हुआ था. एक कोने में से एक हल्का सा छेद मैंने बना दिया जिससे कि दूसरे कमरे में बिल्कुल आंख के बिंदू जितना दिख रहा था.

वहां से मैं सबको देख सकता था मगर कोई मुझे नहीं देख सकता था. इसके बाद मैंने अपने कमरे को अंदर से लॉक किया. मैं तो आया ही इसी काम के लिए था और मैं दूसरे कमरे में देखने लगा.

अंदर मेरी बीवी और मेरी बीवी का बॉस और दो विदेशी आदमी और एक विदेशी औरत थी.
उनके रूम में एक साइड सोफा रखा हुआ था और दूसरी तरफ बेड लगा हुआ था.

थोड़ी देर बाद रूम सर्विस वाला आया और चाय नाश्ता देकर चला गया.
सबने चाय पी और नाश्ता किया.

इसके बाद बिजनेस की मीटिंग शुरू हो गई और मीटिंग में डील को लेकर बातें हो रही थीं.

सभी लोग खुश हो रहे थे.

विदेशी आदमी बोल रहा था इंग्लिश में कि हमारी डील का क्या हुआ?
मेरे बॉस ने मेरी बीवी की तरफ इशारा करके बोला- यह रही आपकी डील.

मेरी बीवी को बॉस ने बोला- अंकिता, इनका ख्याल रखना.
मेरी बीवी ने शर्माकर कहा- ठीक है.
वो डर भी रही थी कि कैसे इनके साथ वह सब होगा.

इसके बाद उस विदेशी ने अपना बैग खोला. उसने बैग में से विलायती शराब निकाली जो देखने में काफी महंगी लग रही थी.
बॉस ने मेरी बीवी अंकिता को इशारा किया और वो सबके लिए पैग बनाने लगी.

अंकिता शराब नहीं पीती थी लेकिन वो विदेशी जिद करने लगा और मेरी बीवी को फिर जबरदस्ती शराब पीनी पड़ी.
मेरी बीवी ने आज मेरे सामने दूसरी बार ड्रिंक की थी.

उसके बाद मेरी बीवी शर्माने लगी. उसके कुछ देर बाद विदेशी औरत मेरी बीवी के पास आकर बैठ गई और उसको किस करने लगी.

मेरी बीवी पहले से ही बहुत मदहोश थी. वो बॉस के रहते किसी बात के लिए मना भी नहीं कर सकती थी इसलिए उस विदेशी औरत का साथ देने लगी.
वो विदेशी औरत मेरी बीवी के होंठ चूसने लगी.

मेरी बीवी ने लाल रंग की साड़ी पहन रखी थी. विदेशी औरत मेरी बीवी के होंठ चूसते चूसते उसकी चूचियां दबाने लगी.

इसके बाद वो मेरी बीवी की साड़ी उतारने लगी.

अंकिता शर्म से पानी पानी हुई जा रही थी. मगर उसको हल्का नशा भी था.

देखते ही देखते अंकिता की साड़ी उसके बदन से अलग कर दी गयी. वो अब केवल ब्लाउज और पेटीकोट में थी.

इतने में दोनों विदेशी गोरे मेरी बीवी के पास आए और उसके होंठों को चूसने लगे.
एक विदेशी गोरे ने मेरी बीवी की चूचियां दबाना शुरू कर दिया और दूसरा उसके होंठ चूस रहा था.

अंकिता को भी सेक्स चढ़ने लगा था. अब वो आहें भर रही थी.

इसके बाद विदेशी ने मेरी बीवी को एक चेयर के सहारे खड़ा कर दिया और पीछे से उसका पेटिकोट ऊपर कर दिया.

उसकी 36 साइज की गांड उनकी नजरों के सामने थी. मेरी बीवी ब्राउन कलर की पैंटी पहने हुए थी.
अब उस विदेशी ने अंकिता को कुर्सी के सहारे झुका दिया और दोनों उसके पीछे आकर खड़े हो गए.

पीछे से देखा तो मेरी बीवी की चूत के होंठ पावरोटी जैसे फूले हुए थे. फिर वो मेरी बीवी की गांड को सहलाने लगे.
उन्होंने कुछ देर उसकी गांड को सहलाया और फिर मेरी बीवी की पैंटी पूरी उतार दी.

वो अब उसकी चूत को सहलाने लगे.
मेरी बीवी की चूत पर एक भी बाल नहीं था. वो भी अपने आप को पूरी तरह से तैयार करके आई थी. मेरी बीवी की भोसड़ी एकदम से चिकनी हुई पड़ी थी.

फिर विदेशी ने मेरी बीवी की भोसड़ी को अपने दोनों हाथों की उंगलियों से फैलाया और अंकिता की चूत का अंदर का गुलाबी भाग दिखाई देने लगा.
दोनों अब मेरी बीवी की भोसड़ी के छेद को देख रहे थे.

देखते हुए दोनों आपस में बातें कर रहे थे- वेरी नाइस इंडियन पूसी … नाइस एस्स … (मस्त इंडियन सेक्सी चूत है, गांड भी मस्त है).
इसके बाद उसने मेरी बीवी की गांड के छेद को देखा और अपनी जीभ मेरी बीवी की गांड के छेद पर लगा कर चाटने लगा.

मेरी बीवी सी सी … करने लगी. फिर उन्होंने अंकिता को बेड पर लिटा दिया. विदेशी औरत मेरी बीवी के ब्लाउज के बटन खोलने लगी और उसका ब्लाउज उतार दिया.

नीचे से अंकिता की ब्रा लाल रंग की थी. उसकी 34 के साइज की चूचियां एकदम ब्रा में टाइट थीं और ब्रा में क्लीवेज बिल्कुल एक लकीर जैसे बनी हुई दिखाई दे रही थी.

फिर उस औरत ने मेरी बीवी की चूचियों को ब्रा के ऊपर से ही दबा दिया और उसके होंठों को चूसने लगी.
उसके बाद उसने मेरी बीवी की ब्रा के स्ट्रिप्स को खोल दिया और ब्रा को हटा दिया.

ब्रा हटते ही उसकी दोनों छातियां एकदम उछल कर बाहर आ गईं. अंकिता की दोनों छाती एकदम संतरे जैसी गोल-गोल लग रही थीं और उन पर ब्राउन कलर के निप्पल थे जो कि एक रूपये के सिक्के जितने बड़े थे.

उन पर मटर के दाने जैसी उसकी निप्पल और भी ज्यादा कयामत लग रही थीं.

विदेशी औरत ने मेरी बीवी का निप्पल अपने मुंह में ले लिया और चूसने लगी.
चूसते हुए वो उसकी दूसरी छाती को दबाने लगी.

अंकिता को शायद ज्यादा नशा हो रहा था इसलिए वो चुपचाप आंखें बंद करके पड़ी थी.

इसके बाद विदेशी आदमी आया और मेरी बीवी की जांघों के बीच में बैठ गया.

अपनी उंगलियों की सहायता से वो मेरी बीवी की भोसड़ी के लिप्स को फैला कर झुक गया और फिर उसने उसकी चूत के दाने पर अपनी जीभ लगा दी.

उसकी चूत का दाना चने के आकार में उभरा हुआ था. वो होंठों से उसकी चूत के दाने को चूमने और काटने लगा. फिर एक उंगली उसकी चूत में डालकर साथ साथ अंदर बाहर भी करने लगा.

मेरी बीवी भी सी … सी … करके सिसकार रही थी. वो तेजी से उंगली को अंदर बाहर कर रहा था. कुछ ही देर में मेरी बीवी की चूत ने पानी छोड़ दिया.

उन दोनों मर्दों ने बारी बारी से मेरी पत्नी की चूत का पानी पीया. वो औरत अभी भी अंकिता की चूचियों के निप्पलों को चूसने में लगी हुई थी.

इसके बाद एक विदेशी ने मेरी बीवी को बिठा दिया.
उन्होंने पैंट खोलकर अपने लंड बाहर निकाल लिये.

अंकिता नशे में बैठी थी और उन्होंने उसके हाथ में अपने लंड दे दिये.
वो उनके लौड़े हिलाने लगी.

फिर दूसरे विदेशी ने लंड मेरी बीवी के मुंह में दे दिया.
लंड का सुपारा मोटा होने की वजह से वह मेरी बीवी के मुंह में नहीं आ रहा था. इसलिए वो गोरा जबरदस्ती अपना लंड उसके मुंह में डालकर धक्के मारने लगा था.

उसके बाद एक विदेशी ने मेरी अंकिता की गांड के नीचे तकिया लगा दिया. फिर उसकी चूत के छेद को अपनी उंगलियों से पूरा फैला कर अपना लंड मेरी बीवी की भोसड़ी के छेद पर लगाया और एक जोर का धक्का मार दिया.

विदेशी का लंड लंबा और मोटा था जिसके घुसते ही अंकिता की हॉट देसी इंडियन चुत के होंठ पूरी तरह से फैल गए थे.
मेरी बीवी की आंखों में आंसू आ गए. एक लंड उसके मुंह में था और दूसरा अब उसकी भोसड़ी में।

वे दोनों उसकी पिलाई करने लगे. वो विदेशी औरत मेरी बीवी की छातियों को पकड़ कर मसले जा रही थी.

मेरी नंगी बीवी के जिस्म पर हर तरह से वार हो रहा था. मेरी बीवी की चूत में वो विदेशी लौड़ा पूरा भीतर जाकर चोद रहा था.
फिर उसकी चूत ने एकदम से पानी छोड़ दिया.
चूत में फच फच की आवाजें आने लगीं.

वो विदेशी भी पूरा पसीने पसीने हो गया था लेकिन उसने चूत मारनी बंद नहीं की.

थोड़ी देर और चोदने के बाद उसके लंड ने भी पानी छोड़ दिया. फिर उसने लंड बाहर निकाला और उसके मुंह पर रगड़ने लगा.

अब पहले वाले ने मुंह से लंड निकाला और दूसरी तरफ जाकर मेरी बीवी की चूत में डाल दिया.
दूसरा विदेशी उसकी चूत मारने लगा. मेरी बीवी उससे भी पूरी तसल्ली के साथ चुदी.

इसके बाद उसने मेरी बीवी को बेड के किनारे पर ही झुका दिया और लंड का मोटा सुपारा उसकी गांड के छेद पर लगाकर धक्का मारने लगा.

मेरी बीवी की गांड का छेद बहुत टाइट था.
उन्होंने थोड़ी क्रीम लेकर मेरी बीवी की गांड के छेद पर लगाई और अपना मोटा सुपारा उसकी गांड के छेद पर लगाकर एक धक्का मारा.

अबकी बार घुसकर लंड का सुपारा मेरी बीवी की गांड में चला गया मगर उसको बहुत तेज दर्द हुआ.
वो रुके नहीं. वो तेजी से धक्के लगाने लगा.
मेरी बीवी बेहाल हो रही थी.

विदेशी अब तेज तेज अंकिता की गांड में लंड डाल रहा था. पहले वाला अंग्रेज मेरी बीवी के नीचे लेट गया और मेरी बीवी को अपने लंड पर बिठाकर धक्के मरवाने लगा.

अब उसकी चूत और गांड दोनों में ही लंड थे. उसकी छातियां नीचे लटक रही थीं. अब नीचे लेटा हुआ विदेशी गोरा उसकी चूचियों के निप्पलों को चूसता हुआ धक्के लगाने लगा.

काफी देर लगातार चुदाई करने के बाद दोनों का पानी निकल गया.
एक विदेशी ने अपने लंड का पानी मेरी बीवी की छातियों पर छिड़क दिया तो दूसरे ने मेरी बीवी की भोसड़ी के ऊपर।

उसके बाद उन दोनों ने मेरी बीवी के मुंह में लंड दे दिए और उसे चुसवाने लगे.
इसके बाद सबने अपने अपने कपड़े पहन पहन लिए.

मेरी बीवी का बॉस विदेशी से कहने लगा- डील पसंद आई?

विदेशी बोले- आई लव देसी इंडियन … (मुझे देसी इंडियन की चुदाई बहुत पसंद है).
इसके बाद सबने होटल में खाना खाया और इसके बाद सब हाथ मिलाकर चलने लगे.

मेरी बीवी भी निकल चुकी थी. उसके जाने के बाद मैं भी घर के लिए निकल गया.
उसके घर पहुंचने से पहले ही मैं पहुंच गया.

घर जाकर मैं आराम से टीवी देखने लगा और ऐसे बर्ताव करने लगा कि जैसे मैंने न तो कुछ सुना और न कुछ देखा.

उसके आने के बाद मैंने पूछा- डील का क्या रहा? फाइनल हुई या नहीं?
वो बोली- हां, हो गयी.

ये सुनकर मैं मुस्करा दिया और मेरी बीवी हल्की सी लंगड़ाती हुई अंदर चली गयी.
उसको पता नहीं था कि मैं आज फिर उसकी हॉट देसी इंडियन चुत की लाइव चुदाई देखकर आया हूं.

तो दोस्तो, ये थी मेरी बीवी की चुदाई की कहानी.
ये हॉट देसी इंडियन चुत चुदाई कहानी आपको कैसी लगी जरूर लिखना. कहानी पर कमेंट करना और इसको शेयर जरूर करना. आशा करता हूं यह कहानी भी आपको पसंद आई होगी.
आपके कमेंट्स के इंतजार में आपका अपना राहुल वशिष्ठ.

नंगी लड़कियों की गर्म सेक्स वीडियो बॉयफ्रेंड के साथ